Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Dec 2023 · 1 min read

परोपकार

विषय परोपकार

हम जीवन के पथ में परोपकार की भावना रखते हैं।
मानवता के साथ साथ सदा हम चलते है।

हम सबके मन भावों से संबंध परोपकार के होते हैं।
बस बोली के बोल चाल से हम सभी के संग रहते हैं।

परोपकार के रंगमंच पर किरदार हम सभी निभाते हैं।
कुछ सोच समझ कर कुछ निस्वार्थ भाव रखते हैं।

आधुनिक जीवन शैली में परोपकार सब जानते हैं।
सच और झूठ के भाव भी कभी कभी कर जाते हैं।

हम सबके जीवन में परोपकार ही कर्म से जुड़ता हैं।
धन और संपत्ति का सहयोग न संग कहीं जाता हैं।

अच्छा बुरा हम सभी के संग परोपकार जो करता हैं।
सच और हकीकत के साथ वो जीवन में पाता हैं।

परोपकार की राह पर चलते हमको जाना हैं।
मत सोचो क्या पाया और हमने खोया हैं।

परोपकार के संग साथ हम सभी जानते हैं।
आज नहीं तो कल आने वाले समय कहता हैं।

हां सच जीवन में परोपकार की भावना होती हैं।
हम सभी को एक दूसरे के सहयोग से बनती हैं।

Language: Hindi
225 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
" कृषक की व्यथा "
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
तोड़ कर खुद को
तोड़ कर खुद को
Dr fauzia Naseem shad
चले न कोई साथ जब,
चले न कोई साथ जब,
sushil sarna
🥀 #गुरु_चरणों_की_धूल 🥀
🥀 #गुरु_चरणों_की_धूल 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
झुर्रियों तक इश्क़
झुर्रियों तक इश्क़
Surinder blackpen
ये रंगो सा घुल मिल जाना,वो खुशियों भरा इजहार कर जाना ,फिजाओं
ये रंगो सा घुल मिल जाना,वो खुशियों भरा इजहार कर जाना ,फिजाओं
Shashi kala vyas
🙏
🙏
Neelam Sharma
वेलेंटाइन एक ऐसा दिन है जिसका सबके ऊपर एक सकारात्मक प्रभाव प
वेलेंटाइन एक ऐसा दिन है जिसका सबके ऊपर एक सकारात्मक प्रभाव प
Rj Anand Prajapati
जीवन  के  हर  चरण  में,
जीवन के हर चरण में,
Sueta Dutt Chaudhary Fiji
भूख
भूख
नाथ सोनांचली
क्यों तुमने?
क्यों तुमने?
Dr. Meenakshi Sharma
2689.*पूर्णिका*
2689.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
■
■ "टेगासुर" के कज़न्स। 😊😊
*Author प्रणय प्रभात*
(11) मैं प्रपात महा जल का !
(11) मैं प्रपात महा जल का !
Kishore Nigam
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
तेवरी में रागात्मक विस्तार +रमेशराज
तेवरी में रागात्मक विस्तार +रमेशराज
कवि रमेशराज
"याद"
Dr. Kishan tandon kranti
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
Keshav kishor Kumar
शिवनाथ में सावन
शिवनाथ में सावन
Santosh kumar Miri
खिलाड़ी
खिलाड़ी
महेश कुमार (हरियाणवी)
अहिल्या
अहिल्या
Dr.Priya Soni Khare
शिक्षक
शिक्षक
Dr. Pradeep Kumar Sharma
पंचतत्व
पंचतत्व
लक्ष्मी सिंह
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
’शे’र’ : ब्रह्मणवाद पर / मुसाफ़िर बैठा
’शे’र’ : ब्रह्मणवाद पर / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
*होता शिक्षक प्राथमिक, विद्यालय का श्रेष्ठ (कुंडलिया )*
*होता शिक्षक प्राथमिक, विद्यालय का श्रेष्ठ (कुंडलिया )*
Ravi Prakash
आओ दीप जलायें
आओ दीप जलायें
डॉ. शिव लहरी
संवेदना की बाती
संवेदना की बाती
Ritu Asooja
संवेदना (वृद्धावस्था)
संवेदना (वृद्धावस्था)
नवीन जोशी 'नवल'
क्यों खफा है वो मुझसे क्यों भला नाराज़ हैं
क्यों खफा है वो मुझसे क्यों भला नाराज़ हैं
VINOD CHAUHAN
Loading...