Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Feb 2024 · 1 min read

पराक्रम दिवस

है पुण्य पर्व ‘पराक्रम दिवस’ का आज!
मनावो सुभाष चंद्र बोस जयंती आज!!
‘तुम मुझे खून दो,मै तुम्है आजादी दूगा’,
‘जयहिन्द’के नारे से हिला ब्रिटिश राज!!
आओ नमन करै भारत वीर प्रणेता को,
जिसने सर्वस्व न्यौछावर दिलाया स्वराज!!
पर स्वतंत्रता के 60 वर्ष न गौरव पाया.
पर अमृतकाल ने पहनाया है गौरव ताज!!

मौलिक रघना सर्वाधिकार सुरछित
बोधिसत्व कस्तूरिया एडवोकेट,कवि पत्रकार
202 नीरव निकुजं,सिकंदरा ,आगरा 282007
मो:9412443093

Language: Hindi
92 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Bodhisatva kastooriya
View all
You may also like:
आँगन पट गए (गीतिका )
आँगन पट गए (गीतिका )
Ravi Prakash
कुछ नहीं बचेगा
कुछ नहीं बचेगा
Akash Agam
■ एक सैद्धांतिक सच। ना मानें तो आज के स्वप्न की भाषा समझें।
■ एक सैद्धांतिक सच। ना मानें तो आज के स्वप्न की भाषा समझें।
*Author प्रणय प्रभात*
कुछ इस लिए भी आज वो मुझ पर बरस पड़ा
कुछ इस लिए भी आज वो मुझ पर बरस पड़ा
Aadarsh Dubey
सागर की ओर
सागर की ओर
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
मैं अक्सर उसके सामने बैठ कर उसे अपने एहसास बताता था लेकिन ना
मैं अक्सर उसके सामने बैठ कर उसे अपने एहसास बताता था लेकिन ना
पूर्वार्थ
वक़्त का समय
वक़्त का समय
भरत कुमार सोलंकी
अक्ल का अंधा - सूरत सीरत
अक्ल का अंधा - सूरत सीरत
DR ARUN KUMAR SHASTRI
#ग़ज़ल
#ग़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
रूपेश को मिला
रूपेश को मिला "बेस्ट राईटर ऑफ द वीक सम्मान- 2023"
रुपेश कुमार
उनकी तस्वीर
उनकी तस्वीर
Madhuyanka Raj
सत्य की खोज
सत्य की खोज
लक्ष्मी सिंह
जुबां पर मत अंगार रख बरसाने के लिए
जुबां पर मत अंगार रख बरसाने के लिए
Anil Mishra Prahari
कुछ अपनी कुछ उनकी बातें।
कुछ अपनी कुछ उनकी बातें।
सत्य कुमार प्रेमी
ऐसे हैं हम तो, और सच भी यही है
ऐसे हैं हम तो, और सच भी यही है
gurudeenverma198
अब तो आ जाओ सनम
अब तो आ जाओ सनम
Ram Krishan Rastogi
जिस नारी ने जन्म दिया
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD CHAUHAN
एक विद्यार्थी जब एक लड़की के तरफ आकर्षित हो जाता है बजाय कित
एक विद्यार्थी जब एक लड़की के तरफ आकर्षित हो जाता है बजाय कित
Rj Anand Prajapati
आधुनिक समाज (पञ्चचामर छन्द)
आधुनिक समाज (पञ्चचामर छन्द)
नाथ सोनांचली
ये  दुनियाँ है  बाबुल का घर
ये दुनियाँ है बाबुल का घर
Sushmita Singh
हिन्दू एकता
हिन्दू एकता
विजय कुमार अग्रवाल
12. घर का दरवाज़ा
12. घर का दरवाज़ा
Rajeev Dutta
सुनो पहाड़ की.....!!!! (भाग - ६)
सुनो पहाड़ की.....!!!! (भाग - ६)
Kanchan Khanna
मित्रता तुम्हारी हमें ,
मित्रता तुम्हारी हमें ,
Yogendra Chaturwedi
मंज़िल मिली उसी को इसी इक लगन के साथ
मंज़िल मिली उसी को इसी इक लगन के साथ
अंसार एटवी
तेरी नियत में
तेरी नियत में
Dr fauzia Naseem shad
जय रावण जी / मुसाफ़िर बैठा
जय रावण जी / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
2443.पूर्णिका
2443.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
"हासिल"
Dr. Kishan tandon kranti
'शत्रुता' स्वतः खत्म होने की फितरत रखती है अगर उसे पाला ना ज
'शत्रुता' स्वतः खत्म होने की फितरत रखती है अगर उसे पाला ना ज
satish rathore
Loading...