Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 1, 2016 · 1 min read

नवविधा – ”वर्ण पिरामिड’

((((((****यह मेरी नवविधा है – ”वर्ण पिरामिड”****)))))
[इसमे प्रथम पंक्ति में -एक ; द्वितीय में -दो ; तृतीया में- तीन ; चतुर्थ में -चार; पंचम में -पांच; षष्ठम में- छः; और सप्तम में -सात वर्ण है,,, इसमें केवल पूर्ण वर्ण गिने जाते हैं ,,,,मात्राएँ या अर्द्ध -वर्ण नहीं गिने जाते ,,,यह केवल सात पंक्तियों की ही रचना है इसीलिए सूक्ष्म में अधिकतम कहना होता है ,,किन्ही दो पंक्तियों में तुकांत मिल जाये तो रचनामें सौंदर्य आ जाता है ] जैसे-

क्यूँ
वीर
सिपाही !
देते प्राण ,
बदलो नीति-
तुम कर्णाधारों ,
युद्ध धर्म स्वीकारो । … (1)

ये
वीर
सैनिक-
बलिदानी !
अरि का काल,
महा विकराल ,
होता प्रलयकारी ।… (2)

हे
कृष्ण
कर दो –
समाधान ,
भारत माँ को
दे दो परिधान
सद्भावों के कर्मों का ।… (३)

है
दीप –
नन्हा सा ,
तिमिर में-
बस तन्हा सा ,
शक्ति का द्योतक ,
प्रकाश प्रबोधक । … (४)

********सुरेशपाल वर्मा जसाला [दिल्ली]

2 Comments · 351 Views
You may also like:
पिता है भावनाओं का समंदर।
Taj Mohammad
मतदान का दौर
Anamika Singh
# महकता बदन #
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
✍️सिर्फ दो पल...दो बातें✍️
"अशांत" शेखर
काबुल का दंश
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
मानव स्वरूपे ईश्वर का अवतार " पिता "  
Dr. Alpa H. Amin
गुरू गोविंद
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
तुम्हारी चाय की प्याली / लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
मातृ रूप
श्री रमण
ये चिड़िया
Anamika Singh
दर्द
Anamika Singh
क्यों ना नये अनुभवों को अब साथ करें?
Manisha Manjari
श्री भूकन शरण आर्य
Ravi Prakash
कबीरा...
Sapna K S
An abeyance
Aditya Prakash
नदियों का दर्द
Anamika Singh
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
प्यार
Satish Arya 6800
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
मेरे पिता से बेहतर कोई नहीं
Manu Vashistha
मोहब्बत ही आजकल कम हैं
Dr.sima
देश के हालात
Shekhar Chandra Mitra
✍️ये अज़ीब इश्क़ है✍️
"अशांत" शेखर
✍️मैं जब पी लेता हूँ✍️
"अशांत" शेखर
हवा
AMRESH KUMAR VERMA
ऐसा ही होता रिश्तों में पिता हमारा...!!
Taj Mohammad
हमारी जां।
Taj Mohammad
जिंदगी में जो उजाले दे सितारा न दिखा।
सत्य कुमार प्रेमी
गुजर रही है जिंदगी अब ऐसे मुकाम से
Ram Krishan Rastogi
Loading...