Oct 6, 2016 · 1 min read

धमकी करे अनर्थ….. : छंद कुण्डलिया

धमकी अणुबम की हमें, जो हैं देते नित्य.
गिरेहबान वे झांककर, देखें खुद के कृत्य.
देखें खुद के कृत्य, मुल्क भूखा-नंगा क्यों?
आतंकी गलकाट, बने करते दंगा क्यों?
पढ़ लें पाक ‘कुरान’, जरूरत क्या है बम की,
शिक्षा करे सुधार, व्यर्थ है ऐसी धमकी..

जन्मे हो इस देश से, भूल गए क्यों आज?
भारतीय-जल, अन्न दे, संधि-सिन्धु पर नाज.
संधि-सिन्धु पर नाज, मान इससे खुशहाली.
समझौता हो रद्द, अगर अतिशय बदहाली.
और किया यदि क्रुद्ध, मीन सम तड़पो वन मे.
हम ही हैं माँ-बाप, जहाँ से हो तुम जन्मे..

पाकिस्तानी फ़ोजिया, समझदार है नार.
हाफ़िज उसकी कोशिशें, किन्तु करे बेकार.
किन्तु करे बेकार, युद्ध पर आमादा है.
मुहरा बने नवाज़, लांघ ली मर्यादा है.
आतंकी व्यवहार, सहें क्यों हिन्दुस्तानी?
धमकी करे अनर्थ, समझ लें पाकिस्तानी!!

–इंजी० अम्बरीष श्रीवास्तव ‘अम्बर’

(ध्यातव्य : ‘महाभारत’ के मूल में धृतराष्ट्र व दुर्योधन ही थे)

119 Views
You may also like:
लाल टोपी
मनोज कर्ण
फास्ट फूड
AMRESH KUMAR VERMA
एक तोला स्त्री
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
क्या क्या हम भूल चुके है
Ram Krishan Rastogi
आखरी उत्तराधिकारी
Prabhudayal Raniwal
हे पिता,करूँ मैं तेरा वंदन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"चैन से तो मर जाने दो"
रीतू सिंह
कर्ज
Vikas Sharma'Shivaaya'
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
मैं तो सड़क हूँ,...
मनोज कर्ण
जीवन एक कारखाना है /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मन बस्या राम
हरीश सुवासिया
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
वृक्ष थे छायादार पिताजी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*माँ छिन्नमस्तिका 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
If we could be together again...
Abhineet Mittal
चलों मदीने को जाते हैं।
Taj Mohammad
पिता
Shailendra Aseem
शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी
Jatashankar Prajapati
फिर कभी तुम्हें मैं चाहकर देखूंगा.............
Nasib Sabharwal
"कर्मफल
Vikas Sharma'Shivaaya'
परेशां हूं बहुत।
Taj Mohammad
पिताजी
विनोद शर्मा सागर
अँधेरा बन के बैठा है
आकाश महेशपुरी
मृत्यु डराती पल - पल
Dr.sima
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
प्यार, इश्क, मुहब्बत...
Sapna K S
मां
Umender kumar
नेताओं के घर भी बुलडोजर चल जाए
Dr. Kishan Karigar
Loading...