Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Apr 2024 · 1 min read

दो शे’र ( चाँद )

ज़मीं पर बैठ कर चाँद को तकते रहे ।
हम इश्क़ में….. यूँ ही हाथ मलते रहे ।।

जिस राह पर थी दुश्वारियां और ग़म ।
हम आख़िर तक उसी पर चलते रहे ।।

©डॉ. वासिफ़ काज़ी , इंदौर
©काज़ी की क़लम

Language: Hindi
1 Like · 60 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पूजा
पूजा
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
यादों को याद करें कितना ?
यादों को याद करें कितना ?
The_dk_poetry
“ मैथिली ग्रुप आ मिथिला राज्य ”
“ मैथिली ग्रुप आ मिथिला राज्य ”
DrLakshman Jha Parimal
*चिंता और चिता*
*चिंता और चिता*
VINOD CHAUHAN
मुक्तक
मुक्तक
गुमनाम 'बाबा'
आज के लिए जिऊँ लक्ष्य ये नहीं मेरा।
आज के लिए जिऊँ लक्ष्य ये नहीं मेरा।
संतोष बरमैया जय
कभी मज़बूरियों से हार दिल कमज़ोर मत करना
कभी मज़बूरियों से हार दिल कमज़ोर मत करना
आर.एस. 'प्रीतम'
लगाव का चिराग बुझता नहीं
लगाव का चिराग बुझता नहीं
Seema gupta,Alwar
अब वो मुलाकात कहाँ
अब वो मुलाकात कहाँ
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
दीप ज्योति जलती है जग उजियारा करती है
दीप ज्योति जलती है जग उजियारा करती है
Umender kumar
जीवन में अँधियारा छाया, दूर तलक सुनसान।
जीवन में अँधियारा छाया, दूर तलक सुनसान।
डॉ.सीमा अग्रवाल
मेरे राम तेरे राम
मेरे राम तेरे राम
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नवम दिवस सिद्धिधात्री,
नवम दिवस सिद्धिधात्री,
Neelam Sharma
आप और हम जीवन के सच
आप और हम जीवन के सच
Neeraj Agarwal
ऐसे भी मंत्री
ऐसे भी मंत्री
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जुनून
जुनून
नवीन जोशी 'नवल'
ना कहीं के हैं हम - ना कहीं के हैं हम
ना कहीं के हैं हम - ना कहीं के हैं हम
Basant Bhagawan Roy
सिर्फ अपना उत्थान
सिर्फ अपना उत्थान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सोच कर हमने
सोच कर हमने
Dr fauzia Naseem shad
💐प्रेम कौतुक-548💐
💐प्रेम कौतुक-548💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सर्द ऋतु का हो रहा है आगमन।
सर्द ऋतु का हो रहा है आगमन।
surenderpal vaidya
■ आज का चिंतन...
■ आज का चिंतन...
*Author प्रणय प्रभात*
चाँद
चाँद
Atul "Krishn"
हर लम्हा दास्ताँ नहीं होता ।
हर लम्हा दास्ताँ नहीं होता ।
sushil sarna
The destination
The destination
Bidyadhar Mantry
जीने का हौसला भी
जीने का हौसला भी
Rashmi Sanjay
प्रेम
प्रेम
Dr.Archannaa Mishraa
कीमत
कीमत
Ashwani Kumar Jaiswal
ముందుకు సాగిపో..
ముందుకు సాగిపో..
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
Loading...