Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Nov 2023 · 1 min read

दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं

दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं

शुभ हो दीपावली आपको, जीवन को महकाए
सुख शांति समृद्धि वैभव, परमानंद बढ़ाए
भरा रहे भंडार सदा,धन तेरस धन धान्य बढ़ाए
काया रहे सदा निरोगी, जीवन भर साथ निभाए
रूप राशि बल बुद्धि बढ़े, रूप चतुर्दशी शुभ हो जाए
अष्टलक्ष्मी वसे निरंतर,शतायु दीपावली मनाएं
अंतस रहे सदा प्रकाशित,पथ उजास हो जाए
अन्नपूर्णा वसे निरंतर, उत्सव रोज मनाएं
अन्नकूट का भोग लगे, प्रसाद नित्य ही पाएं
सुखी रहें सब भाई बहन, भाईदूज की यही दुआएं
मंगलमय त्यौहार की सभी को, हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

2 Likes · 2 Comments · 236 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
मरहटा छंद
मरहटा छंद
Subhash Singhai
हर रिश्ता
हर रिश्ता
Dr fauzia Naseem shad
यूं ही नहीं मिल जाती मंजिल,
यूं ही नहीं मिल जाती मंजिल,
Sunil Maheshwari
*माँ शारदे वन्दना
*माँ शारदे वन्दना
संजय कुमार संजू
जिंदगी और जीवन में अंतर हैं
जिंदगी और जीवन में अंतर हैं
Neeraj Agarwal
आपको डुबाने के लिए दुनियां में,
आपको डुबाने के लिए दुनियां में,
नेताम आर सी
There will be moments in your life when people will ask you,
There will be moments in your life when people will ask you,
पूर्वार्थ
बुंदेली मुकरियां
बुंदेली मुकरियां
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
******** कुछ दो कदम तुम भी बढ़ो *********
******** कुछ दो कदम तुम भी बढ़ो *********
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
सनम
सनम
Sanjay ' शून्य'
No love,only attraction
No love,only attraction
Bidyadhar Mantry
भीड़ ने भीड़ से पूछा कि यह भीड़ क्यों लगी है? तो भीड़ ने भीड
भीड़ ने भीड़ से पूछा कि यह भीड़ क्यों लगी है? तो भीड़ ने भीड
जय लगन कुमार हैप्पी
"ഓണാശംസകളും ആശംസകളും"
DrLakshman Jha Parimal
यादों के तराने
यादों के तराने
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ए मेरे चांद ! घर जल्दी से आ जाना
ए मेरे चांद ! घर जल्दी से आ जाना
Ram Krishan Rastogi
*चलो नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं*.....
*चलो नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं*.....
Harminder Kaur
पल
पल
Sangeeta Beniwal
■ पहले आवेदन (याचना) करो। फिर जुगाड़ लगाओ और पाओ सम्मान छाप प
■ पहले आवेदन (याचना) करो। फिर जुगाड़ लगाओ और पाओ सम्मान छाप प
*प्रणय प्रभात*
गजल
गजल
Punam Pande
प्यार तो हम में और हमारे चारों ओर होना चाहिए।।
प्यार तो हम में और हमारे चारों ओर होना चाहिए।।
शेखर सिंह
तेरे भीतर ही छिपा,
तेरे भीतर ही छिपा,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"विजेता"
Dr. Kishan tandon kranti
Dr arun कुमार शास्त्री
Dr arun कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
धूल से ही उत्सव हैं,
धूल से ही उत्सव हैं,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
#जयहिंद
#जयहिंद
Rashmi Ranjan
वो तो है ही यहूद
वो तो है ही यहूद
shabina. Naaz
समन्दर से भी गहरी
समन्दर से भी गहरी
हिमांशु Kulshrestha
*आए जब से राम हैं, चारों ओर वसंत (कुंडलिया)*
*आए जब से राम हैं, चारों ओर वसंत (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
इश्क़ का मौसम रूठने मनाने का नहीं होता,
इश्क़ का मौसम रूठने मनाने का नहीं होता,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
अन्याय होता है तो
अन्याय होता है तो
Sonam Puneet Dubey
Loading...