Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Aug 2016 · 1 min read

दिले घन श्याम लिक्खा है

मापनी : 1222 1222 1222 1222
काफ़िया : आम
रदीफ़ : लिक्खा है
===================================
कहे राधा सुने मीरा दिले घन श्याम लिक्खा है/
सदा शबरी दिखे मन मे प्रभू श्री राम लिक्खा है /
मिले मोहन कभी तुमको यही पैगाम दे देना /
सजाया तन सखे तुमसे दिले हरि नाम लिक्खा है/
कहीं मोहन कहीं राधा कहीं पे श्याम दिखते हो ,
बड़ी जालिम सखे दुनियाँ दिले दिल श्याम लिक्खा है/
तुझे दिल में बसा कर मै यही फरियाद करता हूँ/
सजे गुलशन कहे दिलवर ज़मीं पे श्याम लिक्खा है /
नहीं गफलत कभी करना दिले दिलदार बनकर तुम
फिजाओं मे कयामत हो दिले घनश्याम लिक्खा है/
तसव्वुर तिश्नगी अव्वल दिले अल्फ़ाज़ अकबर तुम ,
गुज़ारिश श्याम से करती हिए श्री नाम लिक्खा है /
तसव्वुर = कल्पना तिश्नगी=प्यास ,अव्वल सर्वश्रेष्ठ , अकबर महान
राजकिशोर मिश्र ‘राज’ प्रतापगढ़ी
सर्वाधिकार सुरक्षित

2 Comments · 566 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सीधे साधे बोदा से हम नैन लड़ाने वाले लड़के
सीधे साधे बोदा से हम नैन लड़ाने वाले लड़के
कृष्णकांत गुर्जर
सड़क
सड़क
SHAMA PARVEEN
चेहरे पर अगर मुस्कुराहट हो
चेहरे पर अगर मुस्कुराहट हो
Paras Nath Jha
कोरा रंग
कोरा रंग
Manisha Manjari
भुला ना सका
भुला ना सका
Dr. Mulla Adam Ali
छोटी सी प्रेम कहानी
छोटी सी प्रेम कहानी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मोबाइल फोन
मोबाइल फोन
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
Phool gufran
■ सोशल लाइफ़ का
■ सोशल लाइफ़ का "रेवड़ी कल्चर" 😊
*Author प्रणय प्रभात*
Dont loose your hope without doing nothing.
Dont loose your hope without doing nothing.
Sakshi Tripathi
जिंदगी
जिंदगी
Sangeeta Beniwal
रंग उकेरे तूलिका,
रंग उकेरे तूलिका,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
कब तक कौन रहेगा साथी
कब तक कौन रहेगा साथी
Ramswaroop Dinkar
शेर
शेर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
बेवफा
बेवफा
नेताम आर सी
कोशिश कर रहा हूँ मैं,
कोशिश कर रहा हूँ मैं,
Dr. Man Mohan Krishna
*शाश्वत जीवन-सत्य समझ में, बड़ी देर से आया (हिंदी गजल)*
*शाश्वत जीवन-सत्य समझ में, बड़ी देर से आया (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
यह ज़िंदगी है आपकी
यह ज़िंदगी है आपकी
Dr fauzia Naseem shad
2260.
2260.
Dr.Khedu Bharti
सड़कों पर दौड़ रही है मोटर साइकिलें, अनगिनत कार।
सड़कों पर दौड़ रही है मोटर साइकिलें, अनगिनत कार।
Tushar Jagawat
समय बहुत है,
समय बहुत है,
Parvat Singh Rajput
💐प्रेम कौतुक-477💐
💐प्रेम कौतुक-477💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मजबूरी
मजबूरी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
चुप रहो
चुप रहो
Sûrëkhâ Rãthí
कौन कितने पानी में
कौन कितने पानी में
Mukesh Jeevanand
*लाल सरहद* ( 13 of 25 )
*लाल सरहद* ( 13 of 25 )
Kshma Urmila
बुद्ध के विचारों की प्रासंगिकता
बुद्ध के विचारों की प्रासंगिकता
मनोज कर्ण
औरत
औरत
shabina. Naaz
गरिमामय प्रतिफल
गरिमामय प्रतिफल
Shyam Sundar Subramanian
Loading...