Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Nov 2022 · 1 min read

दिखती है व्यवहार में ,ये बात बहुत स्पष्ट

दिखती है व्यवहार में ,ये बात बहुत स्पष्ट
अवसर जिसके पास हों ,वह उतना ही भ्रष्ट
वह उतना ही भ्रष्ट, कहें जिसको सरकारी
रिश्वत का ही भूत ,चढ़ा रहता सिर भारी
कहे ‘अर्चना’ बात, नौकरी जब से लगती
ऊपर की ही नेक , कमाई उसको दिखती
24-11-2022
डॉ अर्चना गुप्ता

1 Like · 181 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
यें सारे तजुर्बे, तालीम अब किस काम का
यें सारे तजुर्बे, तालीम अब किस काम का
Keshav kishor Kumar
हिन्दी दोहा - स्वागत
हिन्दी दोहा - स्वागत
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पुष्पों की यदि चाह हृदय में, कण्टक बोना उचित नहीं है।
पुष्पों की यदि चाह हृदय में, कण्टक बोना उचित नहीं है।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
"दुमका संस्मरण 3" परिवहन सेवा (1965)
DrLakshman Jha Parimal
जुते की पुकार
जुते की पुकार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
नींद
नींद
Kanchan Khanna
वो मुझसे आज भी नाराज है,
वो मुझसे आज भी नाराज है,
शेखर सिंह
2409.पूर्णिका
2409.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
लोकतंत्र
लोकतंत्र
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
दोस्ती पर वार्तालाप (मित्रता की परिभाषा)
दोस्ती पर वार्तालाप (मित्रता की परिभाषा)
Er.Navaneet R Shandily
संतोष करना ही आत्मा
संतोष करना ही आत्मा
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
कारवां गुजर गया फ़िज़ाओं का,
कारवां गुजर गया फ़िज़ाओं का,
Satish Srijan
रिश्तो की कच्ची डोर
रिश्तो की कच्ची डोर
Harminder Kaur
घर हो तो ऐसा
घर हो तो ऐसा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सच तो हम तुम बने हैं
सच तो हम तुम बने हैं
Neeraj Agarwal
हमारी
हमारी "डेमोक्रेसी"
*Author प्रणय प्रभात*
25 , *दशहरा*
25 , *दशहरा*
Dr Shweta sood
Compromisation is a good umbrella but it is a poor roof.
Compromisation is a good umbrella but it is a poor roof.
GOVIND UIKEY
कल की फ़िक्र को
कल की फ़िक्र को
Dr fauzia Naseem shad
*
*"गंगा"*
Shashi kala vyas
बीन अधीन फणीश।
बीन अधीन फणीश।
Neelam Sharma
हम कितने चैतन्य
हम कितने चैतन्य
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
"मौत की सजा पर जीने की चाह"
Pushpraj Anant
मोबाइल फोन
मोबाइल फोन
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
विपक्ष से सवाल
विपक्ष से सवाल
Shekhar Chandra Mitra
रात के अंँधेरे का सौंदर्य वही बता सकता है जिसमें बहुत सी रात
रात के अंँधेरे का सौंदर्य वही बता सकता है जिसमें बहुत सी रात
Neerja Sharma
"चाँद"
Dr. Kishan tandon kranti
तेवरी इसलिए तेवरी है [आलेख ] +रमेशराज
तेवरी इसलिए तेवरी है [आलेख ] +रमेशराज
कवि रमेशराज
गीत
गीत
Shiva Awasthi
Loading...