Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Oct 2016 · 1 min read

दशरथ मांझी को मेरा सलाम

क्या कमाल की दुनिया है यारो…
दशरथ मांझी जब अकेले ही पत्थर काट रहे थे तब कोई सरकारी गुलाम नही गया ..पूछने ?

कोई तो पूछता “ऐसा क्यों कर रहे आप ? में सरकार को अरजी देता हूँ , ये सड़क बनवाना सरकार का काम है,जो काम सरकारी सहयोग से चंद वर्षो मे संम्पन्न हो सकता है उसके लिए पूरा जीवन न घोलें आप l

अब जब पथ्थर तोड़ने में सम्पूर्ण जीवन घोल ही दिया तो क्या कहते है ये गुलाम ज़रा गौर करें…
“में जब भी उधर से जाता हूँ, रुक कर हाथ जोड़ कर सास्टांग दंडवत करता हूँ l” सू..
ति..
ये…
अरे फोटो खींचो भाई कोई इसका कल अखबार में इनकी करूँण रुन्दन का सचित्र वर्णन होगा l ?

“दशरथ मांझी – मेरा सलाम”

दुस्तंत्र,भयाह्वः,चट्टान के सामान अहंकार को खंड-विखंड कर देने वाला था वो माझी,
इस विभद्दस,कुरूप तंत्र को आइना दिखलाने वाला था वो माझी,
इस अचेत, निर्मम स्वभाव को परिश्रम के शौर्य से दफ़्न कर देने वाला था वो माझी, पद,महान,गौरव-गाथा झूठी,शान को तार-तार कर देने वाला था वो माझी,
हौसला,शाहस,फौलाद सा अडिग,
इन शब्दों को एक और मुकाम देंने वाला था वो माझी,
आदर्शवाद,और झूठे दर्शन-शास्त्र की झूठी उड़ान को पाँवो तले कुचल कर रख देने वाला था मांझी,
एक साधारण सा दिखने वाला “आम आदमी”था वो “दशरथ मांझी”
लोक-प्रशासन,सत्ता-संघर्ष राजनीति को
चुनौती देने वाला था वो माझी,
नतमस्तक,सास्टांग-दंडवत का ढोंग न करो ,
प्रह्लाद से ध्रुव बन तुम्हे इस योग्य भी कहां छोड़ने वाला था वो माझी,

मृदुल चंद्र श्रीवास्तव
-The Truth-

Language: Hindi
251 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
इंसान
इंसान
Vandna thakur
महा कवि वृंद रचनाकार,
महा कवि वृंद रचनाकार,
Neelam Sharma
बिस्तर से आशिकी
बिस्तर से आशिकी
Buddha Prakash
खुदारा मुझे भी दुआ दीजिए।
खुदारा मुझे भी दुआ दीजिए।
सत्य कुमार प्रेमी
हिंदी
हिंदी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
■ आज का विचार...
■ आज का विचार...
*Author प्रणय प्रभात*
दीवाली शुभकामनाएं
दीवाली शुभकामनाएं
kumar Deepak "Mani"
हर बार धोखे से धोखे के लिये हम तैयार है
हर बार धोखे से धोखे के लिये हम तैयार है
manisha
प्यारी बहना
प्यारी बहना
Astuti Kumari
"व्यर्थ सलाह "
Yogendra Chaturwedi
कुटुंब के नसीब
कुटुंब के नसीब
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
बिखर गई INDIA की टीम बारी बारी ,
बिखर गई INDIA की टीम बारी बारी ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
जलियांवाला बाग की घटना, दहला देने वाली थी
जलियांवाला बाग की घटना, दहला देने वाली थी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मत पूछो हमसे हिज्र की हर रात हमने गुजारी कैसे है..!
मत पूछो हमसे हिज्र की हर रात हमने गुजारी कैसे है..!
सुषमा मलिक "अदब"
घर
घर
Sushil chauhan
निर्वात का साथी🙏
निर्वात का साथी🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
सच्ची मेहनत कभी भी, बेकार नहीं जाती है
सच्ची मेहनत कभी भी, बेकार नहीं जाती है
gurudeenverma198
अक्सर चाहतें दूर हो जाती है,
अक्सर चाहतें दूर हो जाती है,
ओसमणी साहू 'ओश'
संबंधों के पुल के नीचे जब,
संबंधों के पुल के नीचे जब,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
पिया मिलन की आस
पिया मिलन की आस
Dr. Girish Chandra Agarwal
"जरा सोचो"
Dr. Kishan tandon kranti
दिल ही क्या
दिल ही क्या
Dr fauzia Naseem shad
“एक नई सुबह आयेगी”
“एक नई सुबह आयेगी”
पंकज कुमार कर्ण
हर गम छुपा लेते है।
हर गम छुपा लेते है।
Taj Mohammad
💐अज्ञात के प्रति-141💐
💐अज्ञात के प्रति-141💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मार नहीं, प्यार करो
मार नहीं, प्यार करो
Shekhar Chandra Mitra
Writing Challenge- धन (Money)
Writing Challenge- धन (Money)
Sahityapedia
निर्लोभी राम(कुंडलिया)
निर्लोभी राम(कुंडलिया)
Ravi Prakash
130 किताबें महिलाओं के नाम
130 किताबें महिलाओं के नाम
अरशद रसूल बदायूंनी
स्त्री एक देवी है, शक्ति का प्रतीक,
स्त्री एक देवी है, शक्ति का प्रतीक,
कार्तिक नितिन शर्मा
Loading...