Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Aug 2016 · 1 min read

दर्पण की तरह सुनने का हुनर

अर्ज किया है —
हम दर्पण की तरह सुनने का हुनर रखते हैं बशर्ते आप अपना समझने का हौंसला रखिये
हम दिल से कद्र करना हर रिश्ते की जानते हैं
बशर्ते आप निभाने का अटल फैसला रखिये

Language: Hindi
Tag: शेर
1 Comment · 364 Views
You may also like:
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:38
AJAY AMITABH SUMAN
गरीबी
कवि दीपक बवेजा
अमर शहीद भगत सिंह का जन्मदिन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नमन (देशभक्ति गीत)
Ravi Prakash
बाल कहानी- प्यारे चाचा
SHAMA PARVEEN
खुशनुमा ही रहे, जिंदगी दोस्तों।
सत्य कुमार प्रेमी
उदास
Swami Ganganiya
अद्भूत व्यक्तित्व है “नारी”
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
विश्वास मुझ पर अब
gurudeenverma198
उस पथ पर ले चलो।
Buddha Prakash
मेरे गाँव का अश्वमेध!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
और मैं बहरी हो गई
Kaur Surinder
आ सजाऊँ भाल पर चंदन तरुण
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अपने वजूद की
Dr fauzia Naseem shad
गंगा माँ
Anamika Singh
हादसा
श्याम सिंह बिष्ट
गुलिस्तां
Alok Saxena
बावरी बातें
Rashmi Sanjay
अक्ल के अंधे
Shekhar Chandra Mitra
योगी छंद विधान और विधाएँ
Subhash Singhai
आज़ादी का अमृत महोत्सव
बिमल तिवारी आत्मबोध
सुना है।
Taj Mohammad
"आज बहुत दिनों बाद"
Lohit Tamta
✍️🌺प्रेम की राह पर-46🌺✍️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
✍️Happy Friendship Day✍️
'अशांत' शेखर
स्वप्न पखेरू
Saraswati Bajpai
बरसात
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
वो इश्क है किस काम का
Ram Krishan Rastogi
हमारी प्यारी मां
Shriyansh Gupta
रमेश छंद "नन्ही गौरैया"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
Loading...