Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 May 2018 · 1 min read

दरिन्दों को छुड़ाना चल रहा है

—–ग़ज़ल——
1-
सियासत का ज़माना चल रहा है
घरों को बस जलाना चल रहा है
2-

जुदा जब से हुए हो तुम तभी से
ग़मों में दिल जलाना चल रहा है

3-
ग़रीबी मार ही देती मुझे पर
दुआओं का ख़ज़ाना चल रहा है

4-
कहीं इंसाफ़ की बातें चलें तो
दरिन्दों को छुड़ाना चल रहा है

5-
अभी तो रोक लो तीरे-नज़र को
मेरे दिल पर निशाना चल रहा है

6-
जलाया जब चराग़े-इश्क़ तो फिर
किसी आँधी का आना चल रहा है

7-
दुआ प्रीतम कहाँ पूरी हुई बस
वो हाथों का उठाना चल रहा है
**
प्रीतम राठौर भिनगा
श्रावस्ती(उ०प्र०)
20/04/2018

205 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पापा
पापा
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
🙅इतिहास गवाह है🙅
🙅इतिहास गवाह है🙅
*प्रणय प्रभात*
वफ़ा और बेवफाई
वफ़ा और बेवफाई
हिमांशु Kulshrestha
अब बस हमारे दिल में
अब बस हमारे दिल में
Dr fauzia Naseem shad
तुम अपने माता से,
तुम अपने माता से,
Bindesh kumar jha
"सच्ची मोहब्बत के बगैर"
Dr. Kishan tandon kranti
किसी मोड़ पर अब रुकेंगे नहीं हम।
किसी मोड़ पर अब रुकेंगे नहीं हम।
surenderpal vaidya
ज़हर क्यों पी लिया
ज़हर क्यों पी लिया
Surinder blackpen
किसी की लाचारी पर,
किसी की लाचारी पर,
Dr. Man Mohan Krishna
घड़ी घड़ी में घड़ी न देखें, करें कर्म से अपने प्यार।
घड़ी घड़ी में घड़ी न देखें, करें कर्म से अपने प्यार।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
मुस्कानों पर दिल भला,
मुस्कानों पर दिल भला,
sushil sarna
भीगी पलकें( कविता)
भीगी पलकें( कविता)
Monika Yadav (Rachina)
नहीं बदलते
नहीं बदलते
Sanjay ' शून्य'
" नैना हुए रतनार "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
दोस्ती एक पवित्र बंधन
दोस्ती एक पवित्र बंधन
AMRESH KUMAR VERMA
ओ मां के जाये वीर मेरे...
ओ मां के जाये वीर मेरे...
Sunil Suman
वो छोड़ गया था जो
वो छोड़ गया था जो
Shweta Soni
एक साक्षात्कार - चाँद के साथ
एक साक्षात्कार - चाँद के साथ
Atul "Krishn"
*रोज बदलते अफसर-नेता, पद-पदवी-सरकार (गीत)*
*रोज बदलते अफसर-नेता, पद-पदवी-सरकार (गीत)*
Ravi Prakash
उमड़ते जज्बातों में,
उमड़ते जज्बातों में,
Niharika Verma
राम सीता लक्ष्मण का सपना
राम सीता लक्ष्मण का सपना
Shashi Mahajan
हमनवा
हमनवा
Bodhisatva kastooriya
रिश्तों का एहसास
रिश्तों का एहसास
Dr. Pradeep Kumar Sharma
पैगाम डॉ अंबेडकर का
पैगाम डॉ अंबेडकर का
Buddha Prakash
हिंदी सबसे प्यारा है
हिंदी सबसे प्यारा है
शेख रहमत अली "बस्तवी"
People often dwindle in a doubtful question,
People often dwindle in a doubtful question,
Chahat
जन्नत का हरेक रास्ता, तेरा ही पता है
जन्नत का हरेक रास्ता, तेरा ही पता है
Dr. Rashmi Jha
How do you want to be loved?
How do you want to be loved?
पूर्वार्थ
जरुरी है बहुत जिंदगी में इश्क मगर,
जरुरी है बहुत जिंदगी में इश्क मगर,
शेखर सिंह
3655.💐 *पूर्णिका* 💐
3655.💐 *पूर्णिका* 💐
Dr.Khedu Bharti
Loading...