Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Feb 2023 · 1 min read

– तुझमें बसी है मेरी जान ओ मेरी जाने जाना –

– तुझमें बसी है मेरी जान ओ मेरी जाने जाना –
तुझमें बसी है मेरी जान ओ मेरी जाने जाना,
तुझमें ही है मेरी श्वास ओ मेरी जाने जाना,
तुझमें ही बसी है मेरी धड़कन ओ मेरी जाने जाना,
तुम बिन तड़पे यह दिल ओ मेरी जाने जाना,
तुझे देखने से आए दिल को करार ओ मेरी जाने जाना,
तूझे ना देखे तो यह दिल रहे बैचेन ओ मेरी जाने जाना,
तुमने चुराया है मेरे दिल का करार ओ मेरी जाने जाना,
तेरे दिल में जीयु तेरे लिए ही मर जाऊ ओ मेरी जाने जाना,
तुझको न देख पाऊं तो आंखो से आंसू टपकाऊ ओ मेरी जाने जाना
क्योंकि तुझमें बसी है मेरी जान ओ मेरी जाने जाना,
✍️✍️ भरत गहलोत
जालोर राजस्थान,
संपर्क सूत्र -7742016184-

Language: Hindi
72 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
কি?
কি?
Otteri Selvakumar
मोहब्बत की राहों मे चलना सिखाये कोई।
मोहब्बत की राहों मे चलना सिखाये कोई।
Rajendra Kushwaha
मंहगाई, भ्रष्टाचार,
मंहगाई, भ्रष्टाचार,
*प्रणय प्रभात*
शरद
शरद
Tarkeshwari 'sudhi'
हम पर कष्ट भारी आ गए
हम पर कष्ट भारी आ गए
Shivkumar Bilagrami
नववर्ष 2024 की अशेष हार्दिक शुभकामनाएँ(Happy New year 2024)
नववर्ष 2024 की अशेष हार्दिक शुभकामनाएँ(Happy New year 2024)
आर.एस. 'प्रीतम'
प्यार है नही
प्यार है नही
SHAMA PARVEEN
रूह मर गई, मगर ख्वाब है जिंदा
रूह मर गई, मगर ख्वाब है जिंदा
कवि दीपक बवेजा
विडम्बना और समझना
विडम्बना और समझना
Seema gupta,Alwar
इश्क़ का दामन थामे
इश्क़ का दामन थामे
Surinder blackpen
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
6) जाने क्यों
6) जाने क्यों
पूनम झा 'प्रथमा'
मेरी तो गलतियां मशहूर है इस जमाने में
मेरी तो गलतियां मशहूर है इस जमाने में
Ranjeet kumar patre
दिन  तो  कभी  एक  से  नहीं  होते
दिन तो कभी एक से नहीं होते
shabina. Naaz
3432⚘ *पूर्णिका* ⚘
3432⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
*पीयूष जिंदल: एक सामाजिक व्यक्तित्व*
*पीयूष जिंदल: एक सामाजिक व्यक्तित्व*
Ravi Prakash
Good morning 🌅🌄
Good morning 🌅🌄
Sanjay ' शून्य'
सच समाज में प्रवासी है
सच समाज में प्रवासी है
Dr MusafiR BaithA
निकट है आगमन बेला
निकट है आगमन बेला
डॉ.सीमा अग्रवाल
मन तो करता है मनमानी
मन तो करता है मनमानी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
इंतिज़ार
इंतिज़ार
Shyam Sundar Subramanian
श्री गणेश वंदना:
श्री गणेश वंदना:
जगदीश शर्मा सहज
देश के दुश्मन कहीं भी, साफ़ खुलते ही नहीं हैं
देश के दुश्मन कहीं भी, साफ़ खुलते ही नहीं हैं
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*माँ सरस्वती (चौपाई)*
*माँ सरस्वती (चौपाई)*
Rituraj shivem verma
नज़र को नज़रिए की तलाश होती है,
नज़र को नज़रिए की तलाश होती है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
भक्त औ भगवान का ये साथ प्यारा है।
भक्त औ भगवान का ये साथ प्यारा है।
सत्य कुमार प्रेमी
वाणी से उबल रहा पाणि
वाणी से उबल रहा पाणि
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
"पैसा"
Dr. Kishan tandon kranti
तू है जगतजननी माँ दुर्गा
तू है जगतजननी माँ दुर्गा
gurudeenverma198
Loading...