Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Oct 2022 · 1 min read

जैसी करनी वैसी भरनी

जैसी करनी वैसी भरनी

टिकट कटा एक नेता जी का
पड़े हुए थे बिल्कुल बेजान
चार काँधों का मिला सहारा
पहुँचा दिए गए श्मशान

यमदूत जा रहे थे लेकर
आत्मा कर चुकी थी प्रस्थान
हसरत थी स्वर्ग की उनको
पर मिला यमपुरी में स्थान

भारी भीड़ लगी पड़ी थी
नेता जी थे अंतिम पायदान
कर्मों के लेखे जोखे से वहाँ
चित्रगुप्त कर रहे थे मिलान

नेता जी की बारी आई
तन कर खड़े लिए मुस्कान
देने लगे भाषण वहाँ भी
गिना दिए अपने अनगिनत काम

यमराज डपट कर बोले
बताओ इसकी असली पहचान
सचमुच कर्तव्य निभा कर आया
या फिर है ये पाखंडी बेईमान

चित्रगुप्त ने खाता खोला
हुआ बड़ा भारी अपमान
कुकर्मों की सूची थी लंबी
भाषणबाजी बस इनकी शान

जैसी करनी वैसी भरनी
यमराज ने दिया फरमान
आश्वासन इसको भेंट में देना
भाषण ही कराओ जलपान

दर्द की जब इंतहा बताए
बंद कर लेना आँख-कान
नर्क विभाग का चक्कर लगवाना
यही है इन जैसों का निदान

– आशीष कुमार
मोहनिया, कैमूर, बिहार

1 Like · 2 Comments · 192 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
" कू कू "
Dr Meenu Poonia
*अद्वितीय गुणगान*
*अद्वितीय गुणगान*
Dushyant Kumar
■ आज ऐतिहासिक दिन
■ आज ऐतिहासिक दिन
*Author प्रणय प्रभात*
प्रणय 7
प्रणय 7
Ankita Patel
बांध रखा हूं खुद को,
बांध रखा हूं खुद को,
Shubham Pandey (S P)
बलबीर
बलबीर
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
दरिया का किनारा हूं,
दरिया का किनारा हूं,
Sanjay ' शून्य'
चाँद से मुलाकात
चाँद से मुलाकात
Kanchan Khanna
ज़िंदगी तेरे सवालों के
ज़िंदगी तेरे सवालों के
Dr fauzia Naseem shad
आज फिर किसी की बातों ने बहकाया है मुझे,
आज फिर किसी की बातों ने बहकाया है मुझे,
Vishal babu (vishu)
लाभ की इच्छा से ही लोभ का जन्म होता है।
लाभ की इच्छा से ही लोभ का जन्म होता है।
Rj Anand Prajapati
चुनौतियाँ बहुत आयी है,
चुनौतियाँ बहुत आयी है,
Dr. Man Mohan Krishna
मेरी आरज़ू है ये
मेरी आरज़ू है ये
shabina. Naaz
💐प्रेम कौतुक-155💐
💐प्रेम कौतुक-155💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
धर्म और संस्कृति
धर्म और संस्कृति
Bodhisatva kastooriya
ख़त पहुंचे भगतसिंह को
ख़त पहुंचे भगतसिंह को
Shekhar Chandra Mitra
दीवाली
दीवाली
Mukesh Kumar Sonkar
विद्यार्थी को तनाव थका देता है पढ़ाई नही थकाती
विद्यार्थी को तनाव थका देता है पढ़ाई नही थकाती
पूर्वार्थ
हाई स्कूल के मेंढक (छोटी कहानी)
हाई स्कूल के मेंढक (छोटी कहानी)
Ravi Prakash
परदेसी की  याद  में, प्रीति निहारे द्वार ।
परदेसी की याद में, प्रीति निहारे द्वार ।
sushil sarna
वोट डालने जाएंगे
वोट डालने जाएंगे
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
एक ख़त रूठी मोहब्बत के नाम
एक ख़त रूठी मोहब्बत के नाम
अजहर अली (An Explorer of Life)
जब लोग आपसे खफा होने
जब लोग आपसे खफा होने
Ranjeet kumar patre
मेरी नज़रों में इंतिख़ाब है तू।
मेरी नज़रों में इंतिख़ाब है तू।
Neelam Sharma
दान की महिमा
दान की महिमा
Dr. Mulla Adam Ali
3128.*पूर्णिका*
3128.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
श्री गणेश का अर्थ
श्री गणेश का अर्थ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बुराइयां हैं बहुत आदमी के साथ
बुराइयां हैं बहुत आदमी के साथ
Shivkumar Bilagrami
टूटी हुई कलम को
टूटी हुई कलम को
Anil chobisa
राजे तुम्ही पुन्हा जन्माला आलाच नाही
राजे तुम्ही पुन्हा जन्माला आलाच नाही
Shinde Poonam
Loading...