Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Mar 2023 · 1 min read

जुबां पर मत अंगार रख बरसाने के लिए

जुबां पर मत अंगार रख बरसाने के लिए
एक चिंगारी काफी है घर जलाने के लिए।
a m prahari

Language: Hindi
364 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Anil Mishra Prahari
View all
You may also like:
मुक्तक
मुक्तक
प्रीतम श्रावस्तवी
ईश्वर की कृपा
ईश्वर की कृपा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मेरी तो गलतियां मशहूर है इस जमाने में
मेरी तो गलतियां मशहूर है इस जमाने में
Ranjeet kumar patre
तड़ाग के मुँह पर......समंदर की बात
तड़ाग के मुँह पर......समंदर की बात
सिद्धार्थ गोरखपुरी
कोहरा और कोहरा
कोहरा और कोहरा
Ghanshyam Poddar
नव वर्ष हैप्पी वाला
नव वर्ष हैप्पी वाला
Satish Srijan
10) पूछा फूल से..
10) पूछा फूल से..
पूनम झा 'प्रथमा'
अपने आंसुओं से इन रास्ते को सींचा था,
अपने आंसुओं से इन रास्ते को सींचा था,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
अद्भुद भारत देश
अद्भुद भारत देश
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
"पूर्वाग्रह"
*प्रणय प्रभात*
“मेरे जीवन साथी”
“मेरे जीवन साथी”
DrLakshman Jha Parimal
संघर्ष हमारा जीतेगा,
संघर्ष हमारा जीतेगा,
Shweta Soni
धरती के भगवान
धरती के भगवान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
3386⚘ *पूर्णिका* ⚘
3386⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
फ्लाइंग किस और धूम्रपान
फ्लाइंग किस और धूम्रपान
Dr. Harvinder Singh Bakshi
कर ले प्यार
कर ले प्यार
Ashwani Kumar Jaiswal
चांदनी न मानती।
चांदनी न मानती।
Kuldeep mishra (KD)
अगर आपको किसी से कोई समस्या नहीं है तो इसमें कोई समस्या ही न
अगर आपको किसी से कोई समस्या नहीं है तो इसमें कोई समस्या ही न
Sonam Puneet Dubey
"पालतू"
Dr. Kishan tandon kranti
प्यार है रब की इनायत या इबादत क्या है।
प्यार है रब की इनायत या इबादत क्या है।
सत्य कुमार प्रेमी
*जाना सबके भाग्य में, कहॉं अयोध्या धाम (कुंडलिया)*
*जाना सबके भाग्य में, कहॉं अयोध्या धाम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
घाव
घाव
अखिलेश 'अखिल'
आखिर कब तक ?
आखिर कब तक ?
Dr fauzia Naseem shad
तिरंगा
तिरंगा
Dr Archana Gupta
दिल कि गली
दिल कि गली
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
क्षणिकाएँ. .
क्षणिकाएँ. .
sushil sarna
कुछ लोग रिश्ते में व्यवसायी होते हैं,
कुछ लोग रिश्ते में व्यवसायी होते हैं,
Vindhya Prakash Mishra
धर्म बनाम धर्मान्ध
धर्म बनाम धर्मान्ध
Ramswaroop Dinkar
वज़्न -- 2122 2122 212 अर्कान - फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन बह्र का नाम - बह्रे रमल मुसद्दस महज़ूफ
वज़्न -- 2122 2122 212 अर्कान - फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन बह्र का नाम - बह्रे रमल मुसद्दस महज़ूफ
Neelam Sharma
दिल पर साजे बस हिन्दी भाषा
दिल पर साजे बस हिन्दी भाषा
Sandeep Pande
Loading...