Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Apr 2024 · 1 min read

“जीवन का सबूत”

“जीवन का सबूत”
आशाओं की किरणें फैलकर
बदल देती है रुत,
बेहतरी के लिए प्रयास ही
जीवन का सबूत।

1 Like · 1 Comment · 39 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
*भाग्य विधाता देश के, शिक्षक तुम्हें प्रणाम (कुंडलिया)*
*भाग्य विधाता देश के, शिक्षक तुम्हें प्रणाम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
अपने
अपने
Shyam Sundar Subramanian
"मैं आज़ाद हो गया"
Lohit Tamta
मैं समुद्र की गहराई में डूब गया ,
मैं समुद्र की गहराई में डूब गया ,
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
" ठिठक गए पल "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
बांते
बांते
Punam Pande
पैसा अगर पास हो तो
पैसा अगर पास हो तो
शेखर सिंह
3144.*पूर्णिका*
3144.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
शिकारी संस्कृति के
शिकारी संस्कृति के
Sanjay ' शून्य'
■ एक वीडियो के साथ तमाम लिंक।
■ एक वीडियो के साथ तमाम लिंक।
*Author प्रणय प्रभात*
I met Myself!
I met Myself!
कविता झा ‘गीत’
ओ मां के जाये वीर मेरे...
ओ मां के जाये वीर मेरे...
Sunil Suman
जिंदगी में अगर आपको सुकून चाहिए तो दुसरो की बातों को कभी दिल
जिंदगी में अगर आपको सुकून चाहिए तो दुसरो की बातों को कभी दिल
Ranjeet kumar patre
बिहार के मूर्द्धन्य द्विज लेखकों के विभाजित साहित्य सरोकार
बिहार के मूर्द्धन्य द्विज लेखकों के विभाजित साहित्य सरोकार
Dr MusafiR BaithA
मनमर्जी की जिंदगी,
मनमर्जी की जिंदगी,
sushil sarna
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
सत्य कुमार प्रेमी
संस्कार और अहंकार में बस इतना फर्क है कि एक झुक जाता है दूसर
संस्कार और अहंकार में बस इतना फर्क है कि एक झुक जाता है दूसर
Rj Anand Prajapati
जमाना है
जमाना है
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
"कारोबार"
Dr. Kishan tandon kranti
तेरे सहारे ही जीवन बिता लुंगा
तेरे सहारे ही जीवन बिता लुंगा
Keshav kishor Kumar
खेल करे पैसा मिले,
खेल करे पैसा मिले,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सावन बरसता है उधर....
सावन बरसता है उधर....
डॉ.सीमा अग्रवाल
खंडकाव्य
खंडकाव्य
Suryakant Dwivedi
मेरा नौकरी से निलंबन?
मेरा नौकरी से निलंबन?
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
पारिजात छंद
पारिजात छंद
Neelam Sharma
तुम्हारी याद तो मेरे सिरहाने रखें हैं।
तुम्हारी याद तो मेरे सिरहाने रखें हैं।
Manoj Mahato
सरपरस्त
सरपरस्त
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
शून्य
शून्य
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
सुनाऊँ प्यार की सरग़म सुनो तो चैन आ जाए
सुनाऊँ प्यार की सरग़म सुनो तो चैन आ जाए
आर.एस. 'प्रीतम'
वाह ग़ालिब तेरे इश्क के फतवे भी कमाल है
वाह ग़ालिब तेरे इश्क के फतवे भी कमाल है
Vishal babu (vishu)
Loading...