Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#28 Trending Author

जिसे चाहा दिल से पूजा

कोमल सा नाजुक दिल में,
तन्हाई की खंजर चुभा है।
यादो कइ गहरा समुन्दर में,
मेरा दिल डूबा है।

वो तितली दूर उड़ चली,
दिल की उपवन उजड़ा है।
न मधु-माह न सावन,
ज़िन्दगी की हर दिन खज़ा है।

चाहत का चाँद डूब गया ,
खुशियाँ ज़िन्दगी से छूमंतर है
प्यार की शमा बुझ गई,
ज़िन्दगी मेरा अँधेरा है।

इश्क की महल ढह गई,
जहा सारा मेरा खंडहर है।
सफर ज़िंदगी की कठिन हुआ,
अब हर राह जर्जर है।

उम्मीद का शाम ढल गया,
आँखे सुबह शाम तर है।
जिसे चाहा दिल से पूजा
वो किसी गैर का है।

बाँवरा मन दिल आवारा है
सूना जहां मेरा सारा है।
सोच के हैंरा हूँ मै,
ऐसी ज़िन्दगी का नज़ारा है।

200 Views
You may also like:
पिता एक सूरज
डॉ. शिव लहरी
तेरी एक तिरछी नज़र
DESH RAJ
वो आवाज
Mahendra Rai
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
"Happy National Brother's Day"
Lohit Tamta
हर अश्क कह रहा है।
Taj Mohammad
तमाल छंद में सभी विधाएं सउदाहरण
Subhash Singhai
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
कलम की वेदना (गीत)
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
उसूल
Ray's Gupta
मजदूर_दिवस_पर_विशेष
संजीव शुक्ल 'सचिन'
अधजल गगरी छलकत जाए
Vishnu Prasad 'panchotiya'
ऐ जिंदगी कितने दाँव सिखाती हैं
Dr. Alpa H. Amin
*आत्मा का स्वभाव भक्ति है : कुरुक्षेत्र इस्कॉन के अध्यक्ष...
Ravi Prakash
मेरे पिता से बेहतर कोई नहीं
Manu Vashistha
मैं कौन हूँ
Vikas Sharma'Shivaaya'
सम्मान करो एक दूजे के धर्म का ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
“माँ भारती” के सच्चे सपूत
DESH RAJ
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
*श्री हुल्लड़ मुरादाबादी 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
चाहत कुर्सी की जागी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*ससुराला : ( काव्य ) वसंत जमशेदपुरी*
Ravi Prakash
यादों से दिल बहलाना हुआ
N.ksahu0007@writer
मुस्कुराहट का नाम है जिन्दगी
Anamika Singh
🌺🌺प्रेम की राह पर-9🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रारब्ध प्रबल है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
💐प्रेम की राह पर-26💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दिल पूछता है हर तरफ ये खामोशी क्यों है
VINOD KUMAR CHAUHAN
वर्षा
Vijaykumar Gundal
अंजान बन जाते हैं।
Taj Mohammad
Loading...