Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Jun 2023 · 1 min read

जिन्हें रोते-रोते

जिन्हें रोते-रोते
मरना ही भाता हो,
वे हँसने का कष्ट क्यों करें?

🤣प्रणय🤣

1 Like · 382 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"खैरात"
Dr. Kishan tandon kranti
ग़ज़ल
ग़ज़ल
प्रीतम श्रावस्तवी
एक ग़ज़ल यह भी
एक ग़ज़ल यह भी
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
मन में उतर कर मन से उतर गए
मन में उतर कर मन से उतर गए
ruby kumari
एक ऐसी दुनिया बनाऊँगा ,
एक ऐसी दुनिया बनाऊँगा ,
Rohit yadav
Moral of all story.
Moral of all story.
Sampada
बड़ा मज़ा आता है,
बड़ा मज़ा आता है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*रक्षक है जनतंत्र का, छोटा-सा अखबार (कुंडलिया)*
*रक्षक है जनतंत्र का, छोटा-सा अखबार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ना तुमसे बिछड़ने का गम है......
ना तुमसे बिछड़ने का गम है......
Ashish shukla
जीवन में सफलता छोटी हो या बड़ी
जीवन में सफलता छोटी हो या बड़ी
Dr.Rashmi Mishra
क्या कहेंगे लोग
क्या कहेंगे लोग
Surinder blackpen
ऐ दिल सम्हल जा जरा
ऐ दिल सम्हल जा जरा
Anjana Savi
उनको देखा तो हुआ,
उनको देखा तो हुआ,
sushil sarna
*
*"मां चंद्रघंटा"*
Shashi kala vyas
अपने आलोचकों को कभी भी नजरंदाज नहीं करें। वही तो है जो आपकी
अपने आलोचकों को कभी भी नजरंदाज नहीं करें। वही तो है जो आपकी
Paras Nath Jha
-शेखर सिंह
-शेखर सिंह
शेखर सिंह
तुम ही सुबह बनारस प्रिए
तुम ही सुबह बनारस प्रिए
विकास शुक्ल
कुछ अलग ही प्रेम था,हम दोनों के बीच में
कुछ अलग ही प्रेम था,हम दोनों के बीच में
Dr Manju Saini
■ आज का विचार...
■ आज का विचार...
*प्रणय प्रभात*
पीर- तराजू  के  पलड़े  में,   जीवन  रखना  होता है ।
पीर- तराजू के पलड़े में, जीवन रखना होता है ।
Ashok deep
मेरा नसीब
मेरा नसीब
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
Rituraj shivem verma
" चर्चा चाय की "
Dr Meenu Poonia
**** फागुन के दिन आ गईल ****
**** फागुन के दिन आ गईल ****
Chunnu Lal Gupta
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
Keshav kishor Kumar
2980.*पूर्णिका*
2980.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
एक बार नहीं, हर बार मैं
एक बार नहीं, हर बार मैं
gurudeenverma198
उम्र थका नही सकती,
उम्र थका नही सकती,
Yogendra Chaturwedi
हम सुख़न गाते रहेंगे...
हम सुख़न गाते रहेंगे...
डॉ.सीमा अग्रवाल
प्रेम ईश्वर
प्रेम ईश्वर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...