Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

जाने क्या-क्या लिखूं

हाले दिल की दास्तां लिखूं
मधुर मिलान की यादें लिखूं
छम-छम बरसता सावन
या केशु की महकती खुशबू
जाने क्या-क्या लिखूं …….

तेरी नखरे-शरारत लिखूं
शोख बलखाती जवानी लिखूं
छुप-छुप देखने की बाते लिखूं
या चाँद सी मुस्कुराहट लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

रंग-बिरंग हंसी सपने लिखूं
तुझे बुलाती रूमानी शाम लिखूं
तेरी कोयल सी मीठी आवाज़ लिखूं
तेरी धानी चुनरी में मेरा नाम लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

मद-भरी गुलाबी रुखसार लिखूं
तेरी नैनो की काली घटा लिखूं
प्रेम मस्ती भरी कोई गीत लिखूं
या बचपन की प्रेम कहानी लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

लड़कपन की मस्ती छेड़खानी लिखूं
या रोमांटिक शायरी-गजल लिखूं
तेरे नाम सारी जिंदगानी लिखूं
ये “दुष्यंत” के प्रेम दीवानी
जाने क्या-क्या लिखू …….

1 Comment · 439 Views
You may also like:
जो देखें उसमें
Dr.sima
बेकार ही रंग लिए।
Taj Mohammad
आकाश
AMRESH KUMAR VERMA
आतुरता
अंजनीत निज्जर
बदलती दुनिया
AMRESH KUMAR VERMA
"एक नज़्म लिख रहा हूँ"
Lohit Tamta
विश्व मजदूर दिवस पर दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
वो
Shyam Sundar Subramanian
उन्हें आज वृद्धाश्रम छोड़ आये
Manisha Manjari
'मेरी यादों में अब तक वे लम्हे बसे'
Rashmi Sanjay
वैश्या का दर्द भरा दास्तान
Anamika Singh
शोहरत और बंदर
सूर्यकांत द्विवेदी
छलकाओं न नैना
Dr. Alpa H. Amin
वो हैं , छिपे हुए...
मनोज कर्ण
शून्य से अनन्त
D.k Math
श्री राम स्तुति
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
अधुरा सपना
Anamika Singh
जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अफसोस-कर्मण्य
Shyam Pandey
जीवन जीत हैं।
Dr.sima
महिला काव्य
AMRESH KUMAR VERMA
*तिरछी नजर *
Dr. Alpa H. Amin
सूरज से मनुहार (ग्रीष्म-गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मेरे सनम
DESH RAJ
✍️✍️लफ्ज़✍️✍️
"अशांत" शेखर
विधाता स्वरूप पिता
AMRESH KUMAR VERMA
हम गरीब है साहब।
Taj Mohammad
मैं मजदूर हूँ!
Anamika Singh
मैं बेटी हूँ।
Anamika Singh
सरस्वती कविता
Ankit Halke jha Official's
Loading...