Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Jan 2023 · 1 min read

जाग मछेंदर गोरख आया

छोड़ दुनिया का
मोह-माया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
(१)
सोए-सोए
सदियां गुजरीं
सपनों में क्या
तूने पाया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
(२)
इससे पहले
कि माटी में
मिल जाए
माटी की काया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
(३)
जिसके पीछे
दौड़ रहा तू
वह तो केवल
एक छाया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
(४)
हंसा चला था
मोती चुगने
उसको दाना
कैसे भाया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
(५)
तेरा ठिकाना
दूर देश है
इन महलों में
क्यों भरमाया
जाग मछेंदर
गोरख आया…
#Geetkar
Shekhar Chandra Mitra
#नवजागरण #दर्शन #nirgun #कवि
#Osho #bollywood #हल्लाबोल
#गीतकार #gorakhnath #आध्यात्मिक
#गोरखनाथ #रहस्य #निर्गुण #संत #गीत
#lyricist #उपदेश #नसीहत #भजन

Language: Hindi
127 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2749. *पूर्णिका*
2749. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
2) भीड़
2) भीड़
पूनम झा 'प्रथमा'
तुम बदल जाओगी।
तुम बदल जाओगी।
Rj Anand Prajapati
दोस्ती
दोस्ती
राजेश बन्छोर
-- क्लेश तब और अब -
-- क्लेश तब और अब -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
हिंदी गजल
हिंदी गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
रात में कर देते हैं वे भी अंधेरा
रात में कर देते हैं वे भी अंधेरा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*सेवानिवृत्ति*
*सेवानिवृत्ति*
पंकज कुमार कर्ण
शुद्धिकरण
शुद्धिकरण
Kanchan Khanna
"तेरी यादों ने दिया
*Author प्रणय प्रभात*
भाव गणित
भाव गणित
Shyam Sundar Subramanian
रामनवमी
रामनवमी
Ram Krishan Rastogi
मंज़िल को पाने के लिए साथ
मंज़िल को पाने के लिए साथ
DrLakshman Jha Parimal
दिल का दर्द💔🥺
दिल का दर्द💔🥺
$úDhÁ MãÚ₹Yá
राम आएंगे
राम आएंगे
Neeraj Agarwal
*मन राह निहारे हारा*
*मन राह निहारे हारा*
Poonam Matia
मकर संक्रांति
मकर संक्रांति
Suryakant Dwivedi
खो गए हैं ये धूप के साये
खो गए हैं ये धूप के साये
Shweta Soni
गीत(सोन्ग)
गीत(सोन्ग)
Dushyant Kumar
"झाड़ू"
Dr. Kishan tandon kranti
औरत की हँसी
औरत की हँसी
Dr MusafiR BaithA
💐अज्ञात के प्रति-135💐
💐अज्ञात के प्रति-135💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
माघी पूर्णिमा
माघी पूर्णिमा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वक्त के साथ-साथ चलना मुनासिफ है क्या
वक्त के साथ-साथ चलना मुनासिफ है क्या
कवि दीपक बवेजा
भोर की खामोशियां कुछ कह रही है।
भोर की खामोशियां कुछ कह रही है।
surenderpal vaidya
फितरती फलसफा
फितरती फलसफा
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
ग्रंथ
ग्रंथ
Tarkeshwari 'sudhi'
उनकी ख्यालों की बारिश का भी,
उनकी ख्यालों की बारिश का भी,
manjula chauhan
White patches
White patches
Buddha Prakash
महान जन नायक, क्रांति सूर्य,
महान जन नायक, क्रांति सूर्य, "शहीद बिरसा मुंडा" जी को उनकी श
नेताम आर सी
Loading...