Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Dec 2023 · 1 min read

ज़िंदगी में एक बार रोना भी जरूरी है

ज़िंदगी में एक बार रोना भी जरूरी है
जिंदगी भर हंसने के लिए

1 Like · 107 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"ऐ मेरे बचपन तू सुन"
Dr. Kishan tandon kranti
अजीब सी चुभन है दिल में
अजीब सी चुभन है दिल में
हिमांशु Kulshrestha
पुस्तक विमर्श (समीक्षा )-
पुस्तक विमर्श (समीक्षा )- " साये में धूप "
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
पर्यावरण
पर्यावरण
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
मैं हू बेटा तेरा तूही माँ है मेरी
मैं हू बेटा तेरा तूही माँ है मेरी
Basant Bhagawan Roy
2730.*पूर्णिका*
2730.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
साँवलें रंग में सादगी समेटे,
साँवलें रंग में सादगी समेटे,
ओसमणी साहू 'ओश'
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और      को छोड़कर
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और को छोड़कर
Rakesh Singh
सच समझने में चूका तंत्र सारा
सच समझने में चूका तंत्र सारा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
भ्रात-बन्धु-स्त्री सभी,
भ्रात-बन्धु-स्त्री सभी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
विधाता छंद
विधाता छंद
डॉ.सीमा अग्रवाल
आत्म बोध
आत्म बोध
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बाल चुभे तो पत्नी बरसेगी बन गोला/आकर्षण से मार कांच का दिल है भामा
बाल चुभे तो पत्नी बरसेगी बन गोला/आकर्षण से मार कांच का दिल है भामा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
आत्मबल
आत्मबल
Punam Pande
ऐ जिन्दगी मैने तुम्हारा
ऐ जिन्दगी मैने तुम्हारा
पूर्वार्थ
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Shyam Sundar Subramanian
चलो माना तुम्हें कष्ट है, वो मस्त है ।
चलो माना तुम्हें कष्ट है, वो मस्त है ।
Dr. Man Mohan Krishna
भगवान ने जब सबको इस धरती पर समान अधिकारों का अधिकारी बनाकर भ
भगवान ने जब सबको इस धरती पर समान अधिकारों का अधिकारी बनाकर भ
Sukoon
मै तो हूं मद मस्त मौला
मै तो हूं मद मस्त मौला
नेताम आर सी
"प्रीत की डोर”
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
*
*"आज फिर जरूरत है तेरी"*
Shashi kala vyas
बिंदी
बिंदी
Satish Srijan
मैं नारी हूं...!
मैं नारी हूं...!
singh kunwar sarvendra vikram
राजनीति
राजनीति
Bodhisatva kastooriya
शिव अराधना
शिव अराधना
नवीन जोशी 'नवल'
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet kumar Shukla
■ आदिकाल से प्रचलित एक कारगर नुस्खा।।
■ आदिकाल से प्रचलित एक कारगर नुस्खा।।
*Author प्रणय प्रभात*
बढ़ती तपीस
बढ़ती तपीस
शेखर सिंह
*गोल- गोल*
*गोल- गोल*
Dushyant Kumar
मैत्री//
मैत्री//
Madhavi Srivastava
Loading...