Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Aug 2023 · 1 min read

जब से हैं तब से हम

यह बात और है कि दिखते नहीं हैं हम ।
जब से हैं तब से हम अपने ही साथ हैं ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
5 Likes · 247 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
आपकी हूँ और न पर
आपकी हूँ और न पर
Buddha Prakash
दवा और दुआ में इतना फर्क है कि-
दवा और दुआ में इतना फर्क है कि-
Santosh Barmaiya #jay
‘ विरोधरस ‘---8. || आलम्बन के अनुभाव || +रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---8. || आलम्बन के अनुभाव || +रमेशराज
कवि रमेशराज
Style of love
Style of love
Otteri Selvakumar
पर्यावरण दिवस पर विशेष गीत
पर्यावरण दिवस पर विशेष गीत
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
देर तक मैंने आईना देखा
देर तक मैंने आईना देखा
Dr fauzia Naseem shad
In wadiyo me yuhi milte rahenge ,
In wadiyo me yuhi milte rahenge ,
Sakshi Tripathi
ਰਿਸ਼ਤਿਆਂ ਦੀਆਂ ਤਿਜਾਰਤਾਂ
ਰਿਸ਼ਤਿਆਂ ਦੀਆਂ ਤਿਜਾਰਤਾਂ
Surinder blackpen
*बिरहा की रात*
*बिरहा की रात*
Pushpraj Anant
उन दरख्तों पे कोई फूल न खिल पाएंगें
उन दरख्तों पे कोई फूल न खिल पाएंगें
Shweta Soni
नए वर्ष की इस पावन बेला में
नए वर्ष की इस पावन बेला में
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
" पहला खत "
Aarti sirsat
*घर में बैठे रह गए , नेता गड़बड़ दास* (हास्य कुंडलिया
*घर में बैठे रह गए , नेता गड़बड़ दास* (हास्य कुंडलिया
Ravi Prakash
अंगद के पैर की तरह
अंगद के पैर की तरह
Satish Srijan
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
💐प्रेम कौतुक-348💐
💐प्रेम कौतुक-348💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"अजीब रवायतें"
Dr. Kishan tandon kranti
प्रभु श्री राम
प्रभु श्री राम
Mamta Singh Devaa
ग्रीष्म ऋतु भाग ३
ग्रीष्म ऋतु भाग ३
Vishnu Prasad 'panchotiya'
जय हिन्द वाले
जय हिन्द वाले
Shekhar Chandra Mitra
🙅क्षणिका🙅
🙅क्षणिका🙅
*Author प्रणय प्रभात*
मेरा सुकून
मेरा सुकून
Umesh Kumar Sharma
दश्त में शह्र की बुनियाद नहीं रख सकता
दश्त में शह्र की बुनियाद नहीं रख सकता
Sarfaraz Ahmed Aasee
हसीनाओं से कभी भूलकर भी दिल मत लगाना
हसीनाओं से कभी भूलकर भी दिल मत लगाना
gurudeenverma198
सोने को जमीं,ओढ़ने को आसमान रखिए
सोने को जमीं,ओढ़ने को आसमान रखिए
Anil Mishra Prahari
दोस्ती का कर्ज
दोस्ती का कर्ज
Dr. Pradeep Kumar Sharma
माता पिता नर नहीं नारायण हैं ? ❤️🙏🙏
माता पिता नर नहीं नारायण हैं ? ❤️🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अंतर्राष्ट्रीय जल दिवस
अंतर्राष्ट्रीय जल दिवस
डॉ.सीमा अग्रवाल
जो गुजर गया
जो गुजर गया
ruby kumari
Loading...