Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Aug 2023 · 1 min read

जब कभी तुम्हारा बेटा ज़बा हों, तो उसे बताना ज़रूर

जब कभी तुम्हारा बेटा ज़बा हों
तो उसे बताना ज़रूर
इश्क़ में अक्स कैसे बहाते हैं लड़के
ये दास्तान उसे सुनना ज़रूर

कैसे किसी माँ का बेटा
कई-कई रात नहीं सो पाते हैं
भूखा-प्यासा रहकर
तन्हाइयों में किसी को याद करते हैं

Exam होने के बावजूद भी
कैसे वो नहीं पढ़ते हैं
कॉपी पर लिखने कि बजाय
सिर्फ़ आँखों से अक्स गिरता हैं

कभी कोई इश्क में रोए
उसकी बातें सुनना ज़रूर
पर उसके आँसू ना पोछना
मगर!!! उसे गले से लगाना जरूर

जब कभी तुम्हारा बेटा ज़बा हों
तो उसे बताना ज़रूर
इश्क में अक्स बहाते हैं लड़के
ये दास्तान उसे सुनना ज़रूर!

The_dk_poetry

1 Like · 174 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बाल कविता: लाल भारती माँ के हैं हम
बाल कविता: लाल भारती माँ के हैं हम
नाथ सोनांचली
*विभाजित जगत-जन! यह सत्य है।*
*विभाजित जगत-जन! यह सत्य है।*
संजय कुमार संजू
ईश्वर अल्लाह गाड गुरु, अपने अपने राम
ईश्वर अल्लाह गाड गुरु, अपने अपने राम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
विधाता छंद
विधाता छंद
डॉ.सीमा अग्रवाल
Struggle to conserve natural resources
Struggle to conserve natural resources
Desert fellow Rakesh
छाती
छाती
Dr.Pratibha Prakash
मंजिलें
मंजिलें
Mukesh Kumar Sonkar
2679.*पूर्णिका*
2679.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ए रब मेरे मरने की खबर उस तक पहुंचा देना
ए रब मेरे मरने की खबर उस तक पहुंचा देना
श्याम सिंह बिष्ट
मुट्ठी भर आस
मुट्ठी भर आस
Kavita Chouhan
यादों का थैला लेकर चले है
यादों का थैला लेकर चले है
Harminder Kaur
*गुड़िया प्यारी राज दुलारी*
*गुड़िया प्यारी राज दुलारी*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खुद की एक पहचान बनाओ
खुद की एक पहचान बनाओ
Vandna Thakur
--जो फेमस होता है, वो रूखसत हो जाता है --
--जो फेमस होता है, वो रूखसत हो जाता है --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
"सदा से"
Dr. Kishan tandon kranti
मौजु
मौजु
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
दोस्त
दोस्त
Neeraj Agarwal
चांद के पार
चांद के पार
Shekhar Chandra Mitra
Motivational
Motivational
Mrinal Kumar
लू, तपिश, स्वेदों का व्यापार करता है
लू, तपिश, स्वेदों का व्यापार करता है
Anil Mishra Prahari
"सियासत का सेंसेक्स"
*Author प्रणय प्रभात*
भाव और ऊर्जा
भाव और ऊर्जा
कवि रमेशराज
और कितनें पन्ने गम के लिख रखे है साँवरे
और कितनें पन्ने गम के लिख रखे है साँवरे
Sonu sugandh
जो ले जाये उस पार दिल में ऐसी तमन्ना न रख
जो ले जाये उस पार दिल में ऐसी तमन्ना न रख
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
मैं ....
मैं ....
sushil sarna
हे महादेव
हे महादेव
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
Dark Web and it's Potential Threats
Dark Web and it's Potential Threats
Shyam Sundar Subramanian
ये 'लोग' हैं!
ये 'लोग' हैं!
Srishty Bansal
आज तो ठान लिया है
आज तो ठान लिया है
shabina. Naaz
Loading...