Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2023 · 1 min read

चालवाजी से तो अच्छा है

चालवाजी से तो अच्छा है
नादान बनो।
थोड़ा थोड़ा
खुद पर मेहरबान बनो।
पाना है अगर
आलम ए करीम की रहमत।
सबसे पहले
एक अच्छा इंसान बनो।

सतीश सृजन

395 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Satish Srijan
View all
You may also like:
#वर_दक्षिण (दहेज)
#वर_दक्षिण (दहेज)
संजीव शुक्ल 'सचिन'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सुता ये ज्येष्ठ संस्कृत की,अलंकृत भाल पे बिंदी।
सुता ये ज्येष्ठ संस्कृत की,अलंकृत भाल पे बिंदी।
Neelam Sharma
::बेवफा::
::बेवफा::
MSW Sunil SainiCENA
Kabhi kitabe pass hoti hai
Kabhi kitabe pass hoti hai
Sakshi Tripathi
"दीया और तूफान"
Dr. Kishan tandon kranti
वो भी तो ऐसे ही है
वो भी तो ऐसे ही है
gurudeenverma198
राजनीति
राजनीति
Bodhisatva kastooriya
#गणपति_बप्पा_मोरया
#गणपति_बप्पा_मोरया
*Author प्रणय प्रभात*
सत्य दृष्टि (कविता)
सत्य दृष्टि (कविता)
Dr. Narendra Valmiki
किया विषपान फिर भी दिल, निरंतर श्याम कहता है (मुक्तक)
किया विषपान फिर भी दिल, निरंतर श्याम कहता है (मुक्तक)
Ravi Prakash
अल्फाज (कविता)
अल्फाज (कविता)
sandeep kumar Yadav
कविता -
कविता - "सर्दी की रातें"
Anand Sharma
अनसुलझे किस्से
अनसुलझे किस्से
Mahender Singh
"मैं तेरी शरण में आई हूँ"
Shashi kala vyas
गर्मी की छुट्टियां
गर्मी की छुट्टियां
Manu Vashistha
कविता 10 🌸माँ की छवि 🌸
कविता 10 🌸माँ की छवि 🌸
Mahima shukla
ये दूरियां सिर्फ मैंने कहाँ बनायी थी //
ये दूरियां सिर्फ मैंने कहाँ बनायी थी //
गुप्तरत्न
जीवन की सबसे बड़ी त्रासदी
जीवन की सबसे बड़ी त्रासदी
ruby kumari
धन से जो सम्पन्न उन्हें ,
धन से जो सम्पन्न उन्हें ,
sushil sarna
शिवाजी गुरु समर्थ रामदास – ईश्वर का संकेत और नारायण का गृहत्याग – 03
शिवाजी गुरु समर्थ रामदास – ईश्वर का संकेत और नारायण का गृहत्याग – 03
Sadhavi Sonarkar
ख़ुद को हमारी नज़रों में तलाशते हैं,
ख़ुद को हमारी नज़रों में तलाशते हैं,
ओसमणी साहू 'ओश'
ଡାକ ଆଉ ଶୁଭୁ ନାହିଁ ହିଆ ଓ ଜଟିଆ
ଡାକ ଆଉ ଶୁଭୁ ନାହିଁ ହିଆ ଓ ଜଟିଆ
Bidyadhar Mantry
*निंदिया कुछ ऐसी तू घुट्टी पिला जा*-लोरी
*निंदिया कुछ ऐसी तू घुट्टी पिला जा*-लोरी
Poonam Matia
इबादत आपकी
इबादत आपकी
Dr fauzia Naseem shad
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को समर्पित
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को समर्पित
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
संपूर्णता किसी के मृत होने का प्रमाण है,
संपूर्णता किसी के मृत होने का प्रमाण है,
Pramila sultan
ऐ ख़ुदा इस साल कुछ नया कर दें
ऐ ख़ुदा इस साल कुछ नया कर दें
Keshav kishor Kumar
दिलरुबा जे रहे
दिलरुबा जे रहे
Shekhar Chandra Mitra
3015.*पूर्णिका*
3015.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...