Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jun 2016 · 1 min read

चल पड़ा है सामरिक

चल पड़ा है सामारिक…..????????
——————————————-
चल पड़ा परचम लिए मैं,
हर गली और गाँव को ।
है जहाँ सम्पूर्ण भारत,
वर्ष के उत्थान को ।।
है निहित सत्ज्ञान पथ ,
हर पग है दैविक ब्रह्म सा ।
करवटों में वक्त के हूँ,
सत्य के ईमान को ।।
चल पड़ा परचम लिए……………..

चर अचर चैतन्य जड़ ,
नव प्राण लेकर चल रहा ।
ऐसा लगता है कि मेरे,
साथ धरती चल रही ।।
देख कर के देव दानव,
साथ मिलकर गा रहे ।
कि चल पड़ा है सामरिक अब,
देश के आवाम को ।।
चल पड़ा परचम लिए……………….

बुझ रहा था दीप,
नूतन ने प्रभा को ले लिया ।
एक ने सौ कर दिया और,
जग को रोशन कर रहा ।।
आशियाना थी उजड़ती,
ताप से अन्याय के ।
कर विभा सत्धर्म ने ,
दे दी है न्योता न्याय को ।।
चल पड़ा परचम लिए…………….

बिन लहू मानस पटल पर,
न्याय ने आश्रय किया ।
बिन समर के सामरिक ने ,
हार तम को दे दिया ।।
धर्म की धारा बहे फिर,
मानसिक संज्ञान में ।
चल पड़ा विज्ञान भी अब ,
लक्ष्य के संधान को ।।
चल पड़ा परचम लिए…………….


-(अरुण सामरिक NDS)
देवघर झारखण्ड
11/10/2015
www.nyayadharmsabha.org

Language: Hindi
Tag: कविता
153 Views
You may also like:
जबसे मुहब्बतों के तरफ़दार......
अश्क चिरैयाकोटी
बुआ आई
राजेश 'ललित'
सपना देखा है तो
कवि दीपक बवेजा
गर्दिशों की जिन्दगी है।
Taj Mohammad
साथ जीने के लिए
surenderpal vaidya
तुम्हारी यादें
Dr. Sunita Singh
अंकित है जो सत्य शिला पर
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
योग्य शिक्षक वही
Dr fauzia Naseem shad
मां के आंचल
Nitu Sah
*हम बच्चे हिंदुस्तान के { बाल-गीतिका }*
Ravi Prakash
तुलसी
AMRESH KUMAR VERMA
मुहब्बत भी क्या है
shabina. Naaz
ये चिड़िया
Anamika Singh
मिटटी
Vikas Sharma'Shivaaya'
तेरा साथ मुझको गवारा नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
The Journey of this heartbeat.
Manisha Manjari
दुल्हन
Kavita Chouhan
हर फौजी की कहानी
Dalveer Singh
मां
Umender kumar
हृदय का सरोवर
सुनील कुमार
करते रहिये काम
सूर्यकांत द्विवेदी
गुरु महान है।
★ IPS KAMAL THAKUR ★
किसान का बेटा
Shekhar Chandra Mitra
वर्तमान से वक्त बचा लो तुम निज के निर्माण में...
AJAY AMITABH SUMAN
✍️क्या यही है अमृतकाल...✍️
'अशांत' शेखर
अंगार
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
- में अनाथ हु -
bharat gehlot
# जज्बे सलाम ...
Chinta netam " मन "
'माॅं बहुत बीमार है'
Rashmi Sanjay
नवगीत---- जीवन का आर्तनाद
Sushila Joshi
Loading...