Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-338💐

चलो दो चार कदम हमारे साथ चलो,
हर चाल चलो कुछ नए जज़्बात चलो,
सुनो,अब बे-एतिबार मत कहना मुझसे,
दिल का मकाँ तुम्हारा है,दिन रात चलो।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
392 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
धुंध इतनी की खुद के
धुंध इतनी की खुद के
Atul "Krishn"
प्रायश्चित
प्रायश्चित
Shyam Sundar Subramanian
जो जिस चीज़ को तरसा है,
जो जिस चीज़ को तरसा है,
Pramila sultan
जीवन में सारा खेल, बस विचारों का है।
जीवन में सारा खेल, बस विचारों का है।
Shubham Pandey (S P)
काश
काश
लक्ष्मी सिंह
शक्ति शील सौंदर्य से, मन हरते श्री राम।
शक्ति शील सौंदर्य से, मन हरते श्री राम।
आर.एस. 'प्रीतम'
सुबह की पहल तुमसे ही
सुबह की पहल तुमसे ही
Rachana Jha
चमन
चमन
Bodhisatva kastooriya
Mathematics Introduction .
Mathematics Introduction .
Nishant prakhar
ज़िंदगी से शिकायत
ज़िंदगी से शिकायत
Dr fauzia Naseem shad
Teacher
Teacher
Rajan Sharma
पुलिस की ट्रेनिंग
पुलिस की ट्रेनिंग
Dr. Pradeep Kumar Sharma
STAY SINGLE
STAY SINGLE
Saransh Singh 'Priyam'
#drarunkumarshastri♥️❤️
#drarunkumarshastri♥️❤️
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बाल कविता: तितली रानी चली विद्यालय
बाल कविता: तितली रानी चली विद्यालय
Rajesh Kumar Arjun
ॐ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
प्रेम उतना ही करो जिसमे हृदय खुश रहे
प्रेम उतना ही करो जिसमे हृदय खुश रहे
पूर्वार्थ
"अभ्यास"
Dr. Kishan tandon kranti
Kitna hasin ittefak tha ,
Kitna hasin ittefak tha ,
Sakshi Tripathi
2977.*पूर्णिका*
2977.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*सड़क छोड़ो, दरवाजे बनवाओ (हास्य व्यंग्य)*
*सड़क छोड़ो, दरवाजे बनवाओ (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
कभी उन बहनों को ना सताना जिनके माँ पिता साथ छोड़ गये हो।
कभी उन बहनों को ना सताना जिनके माँ पिता साथ छोड़ गये हो।
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
दोहा त्रयी. . . . .
दोहा त्रयी. . . . .
sushil sarna
अरमानों की भीड़ में,
अरमानों की भीड़ में,
Mahendra Narayan
राजनीतिक यात्रा फैशन में है, इमेज बिल्डिंग और फाइव स्टार सुव
राजनीतिक यात्रा फैशन में है, इमेज बिल्डिंग और फाइव स्टार सुव
Sanjay ' शून्य'
जो महा-मनीषी मुझे
जो महा-मनीषी मुझे
*Author प्रणय प्रभात*
व्यस्तता
व्यस्तता
Surya Barman
कहीं वैराग का नशा है, तो कहीं मन को मिलती सजा है,
कहीं वैराग का नशा है, तो कहीं मन को मिलती सजा है,
Manisha Manjari
विरक्ती
विरक्ती
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
मेरे जाने के बाद ,....
मेरे जाने के बाद ,....
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...