Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-477💐

चलो कह दें रहबर उन्हें अपने होश में,
वो तो कहें कुछ भी हमें अपने होश में,
तय तो करें इबरत,इक नज़र मुझ पर डालें,
फिर कभी न रह सकेंगे हम अपने होश में।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
Tag: Hindi Quotes, Quote Writer
6 Views
You may also like:
चित्रगुप्त पूजन
चित्रगुप्त पूजन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
याद आते हैं
याद आते हैं
Dr. Sunita Singh
हम जो तुम किसी से ना कह सको वो कहानी है
हम जो तुम किसी से ना कह सको वो कहानी...
J_Kay Chhonkar
प्रीति के दोहे, भाग-1
प्रीति के दोहे, भाग-1
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ऐसे इश्क निभाया हमने
ऐसे इश्क निभाया हमने
Anamika Singh
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते है, पर उनकी बातों में विश्
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते है, पर...
जय लगन कुमार हैप्पी
तन्हाईयाँ
तन्हाईयाँ
Shyam Sundar Subramanian
मोदी क्या कर लेगा
मोदी क्या कर लेगा
Satish Srijan
सद् गणतंत्र सु दिवस मनाएं
सद् गणतंत्र सु दिवस मनाएं
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तेरे दिल में कब आएं हम
तेरे दिल में कब आएं हम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ये जरूरी नहीं।
ये जरूरी नहीं।
Taj Mohammad
प्रणय 8
प्रणय 8
Ankita Patel
सच बोलने की हिम्मत
सच बोलने की हिम्मत
Shekhar Chandra Mitra
गंतव्यों पर पहुँच कर भी, यात्रा उसकी नहीं थमती है।
गंतव्यों पर पहुँच कर भी, यात्रा उसकी नहीं थमती है।
Manisha Manjari
तुम नहीं आये
तुम नहीं आये
Surinder blackpen
Re: !! तेरी ये आंखें !!
Re: !! तेरी ये आंखें !!
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
अभी उम्मीद की खिड़की खुलेगी..
अभी उम्मीद की खिड़की खुलेगी..
Ranjana Verma
दुनियादारी में
दुनियादारी में
surenderpal vaidya
मृगतृष्णा
मृगतृष्णा
Pratibha Kumari
मौत किसी समस्या का
मौत किसी समस्या का
Dr fauzia Naseem shad
उसकी गमी में यूं निहां सबका मलाल था,
उसकी गमी में यूं निहां सबका मलाल था,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आया क़िसमिस का त्यौहार
आया क़िसमिस का त्यौहार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Writing Challenge- दोस्ती (Friendship)
Writing Challenge- दोस्ती (Friendship)
Sahityapedia
बारिश
बारिश
मनोज कर्ण
■ मुक्तक / एक आह्वान...
■ मुक्तक / एक आह्वान...
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-334💐
💐प्रेम कौतुक-334💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*लिफाफा भोजन शादी( कुंडलिया)*
*लिफाफा भोजन शादी( कुंडलिया)*
Ravi Prakash
सच यह गीत मैंने लिखा है
सच यह गीत मैंने लिखा है
gurudeenverma198
अब भी वही तेरा इंतजार करते है
अब भी वही तेरा इंतजार करते है
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
✍️दर्द दिल में....... ✍️
✍️दर्द दिल में....... ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
Loading...