Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Sep 2022 · 1 min read

घर फूंकने का साहस

सच के लिए
सत्ता से उलझना
ठीक नहीं
अब सेहत के लिए!
कोई नहीं
खड़ा हो पाएगा
हमारे साथ
हिफाजत के लिए!
बखूबी यह
जानते हुए भी
हमें लड़ना है
इंसानियत के लिए!
हम खुद ही
जिम्मेदार होंगे
आने वाली
मुसीबत के लिए!
#अभिव्यक्ति_के_खतरे #इंकलाबी
#बुद्धिजीवी #बगावत #साहस
#हल्लाबोल #media #हक

Language: Hindi
274 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सजदे में झुकते तो हैं सर आज भी, पर मन्नतें मांगीं नहीं जातीं।
सजदे में झुकते तो हैं सर आज भी, पर मन्नतें मांगीं नहीं जातीं।
Manisha Manjari
बेबाक
बेबाक
Satish Srijan
अल्फाज़.......दिल के
अल्फाज़.......दिल के
Neeraj Agarwal
चाय और सिगरेट
चाय और सिगरेट
आकाश महेशपुरी
I
I
Ranjeet kumar patre
बहुत वो साफ सुधरी ड्रेस में स्कूल आती थी।
बहुत वो साफ सुधरी ड्रेस में स्कूल आती थी।
विजय कुमार नामदेव
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ये गजल बेदर्द,
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ये गजल बेदर्द,
Sahil Ahmad
खूब रोता मन
खूब रोता मन
Dr. Sunita Singh
महाप्रयाण
महाप्रयाण
Shyam Sundar Subramanian
देह माटी की 'नीलम' श्वासें सभी उधार हैं।
देह माटी की 'नीलम' श्वासें सभी उधार हैं।
Neelam Sharma
किसी को इतना मत करीब आने दो
किसी को इतना मत करीब आने दो
कवि दीपक बवेजा
■ कटाक्ष
■ कटाक्ष
*Author प्रणय प्रभात*
सवा सेर
सवा सेर
Dr. Pradeep Kumar Sharma
चलो सत्य की राह में,
चलो सत्य की राह में,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बुद्ध वचन सुन लो
बुद्ध वचन सुन लो
Buddha Prakash
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
माँ सरस्वती प्रार्थना
माँ सरस्वती प्रार्थना
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
उम्र निकल रही है,
उम्र निकल रही है,
Ansh
💐अज्ञात के प्रति-152💐
💐अज्ञात के प्रति-152💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*उठा जो देह में जादू, समझ लो आई होली है (मुक्तक)*
*उठा जो देह में जादू, समझ लो आई होली है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
इश्क़
इश्क़
लक्ष्मी सिंह
मन के ब्यथा जिनगी से
मन के ब्यथा जिनगी से
Ram Babu Mandal
#गुलमोहरकेफूल
#गुलमोहरकेफूल
कार्तिक नितिन शर्मा
व्यंग्य आपको सिखलाएगा
व्यंग्य आपको सिखलाएगा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"तिलचट्टा"
Dr. Kishan tandon kranti
इंसान की सूरत में
इंसान की सूरत में
Dr fauzia Naseem shad
करवाचौथ
करवाचौथ
Surinder blackpen
सहेजे रखें संकल्प का प्रकाश
सहेजे रखें संकल्प का प्रकाश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
तुम्हें आती नहीं क्या याद की  हिचकी..!
तुम्हें आती नहीं क्या याद की हिचकी..!
Ranjana Verma
Loading...