Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Feb 2024 · 1 min read

ग़ज़ल

प्यार का हर इक पन्ना प्यारा होता है
लिखा हुआ दिल का गलियारा होता है

आँखों ने जो लिखा अश्क की पानी से
पढ़ने वाला आँख का तारा होता है

बिना कहे बातें सारी हो जाती हैं
आँखों में आँखों का इशारा होता है

यकीं का रिश्ता एक बार जो खत्म हुआ
कभी नही फिर वो दोबारा होता है

समझौते का जीवन उसका लगता है
मजबूरी का जो भी मारा होता है

वो सुन्दर चेहरा बिन पढ़ा ही रह जाता
गर्दिश में जो भी बेचारा होता है

महज़ इश्क है किस्सा पैसे वालों का
भूखे को रोटी का सहारा होता है

Language: Hindi
2 Likes · 2 Comments · 67 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Mahendra Narayan
View all
You may also like:
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
सिद्धार्थ गोरखपुरी
अजर अमर सतनाम
अजर अमर सतनाम
Dr. Kishan tandon kranti
23/205. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/205. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
ओनिका सेतिया 'अनु '
💐प्रेम कौतुक-212💐
💐प्रेम कौतुक-212💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नील गगन
नील गगन
नवीन जोशी 'नवल'
मनोरमा
मनोरमा
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
त्याग
त्याग
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
बूढ़ी माँ .....
बूढ़ी माँ .....
sushil sarna
Life is proceeding at a fast rate with catalysts making it e
Life is proceeding at a fast rate with catalysts making it e
Sukoon
चमकना है सितारों सा
चमकना है सितारों सा
कवि दीपक बवेजा
#विषय --रक्षा बंधन
#विषय --रक्षा बंधन
rekha mohan
गलतियां ही सिखाती हैं
गलतियां ही सिखाती हैं
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
जानो आयी है होली
जानो आयी है होली
Satish Srijan
दीपावली
दीपावली
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
अंदर का चोर
अंदर का चोर
Shyam Sundar Subramanian
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
सुनबऽ त हँसबऽ तू बहुते इयार
सुनबऽ त हँसबऽ तू बहुते इयार
आकाश महेशपुरी
संघर्ष
संघर्ष
विजय कुमार अग्रवाल
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
सुना हूं किसी के दबाव ने तेरे स्वभाव को बदल दिया
Keshav kishor Kumar
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
Kshma Urmila
*खाती दीमक लकड़ियॉं, कागज का सामान (कुंडलिया)*
*खाती दीमक लकड़ियॉं, कागज का सामान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
हुस्न और खूबसूरती से भरे हुए बाजार मिलेंगे
हुस्न और खूबसूरती से भरे हुए बाजार मिलेंगे
शेखर सिंह
■ आज का शेर
■ आज का शेर
*Author प्रणय प्रभात*
विचारों में मतभेद
विचारों में मतभेद
Dr fauzia Naseem shad
'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में रमेशराज के विरोधरस के गीत
'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में रमेशराज के विरोधरस के गीत
कवि रमेशराज
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
Arghyadeep Chakraborty
दो जून की रोटी
दो जून की रोटी
Ram Krishan Rastogi
माफ़ी नहीं होती
माफ़ी नहीं होती
Surinder blackpen
बाल कविता: मोटर कार
बाल कविता: मोटर कार
Rajesh Kumar Arjun
Loading...