Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jun 2023 · 1 min read

खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे

आते जाते हैं सुख दुख, जीवन भी है रेल रे
खेल भावनाओं से खेलें, जीवन भी है खेल रे
कभी हार और कभी जीत, होती रहती है खेल में
नहीं उदास होना रे वन्दे, जीवन रूपी रेल में
बारी बारी से सुख दुख के, स्टेशन आते जाते हैं
बारी जब जिसकी आती है, चढ़ते उतरते रहते हैं
सुख शांति और हंसी खुशी से,सफर करें हम रेल में
आशा और विश्वास रखें,हम फिर जीतेंगे खेल में
प्रेम शांति आनंद से बैठें, जीवन रुपी रेल में
यात्रा एक दिन पूरी होगी,रुक जाएगी रेल रे
खेल ख़त्म हो जाएगा,जगत आने जाने का खेल रे
खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
Tag: गीत
4 Likes · 168 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
मौहब्बत अक्स है तेरा इबादत तुझको करनी है ।
मौहब्बत अक्स है तेरा इबादत तुझको करनी है ।
Phool gufran
* चाहतों में *
* चाहतों में *
surenderpal vaidya
*धन्यवाद*
*धन्यवाद*
Shashi kala vyas
प्यार और नफ़रत
प्यार और नफ़रत
Dr. Pradeep Kumar Sharma
हिंदी शायरी का एंग्री यंग मैन
हिंदी शायरी का एंग्री यंग मैन
Shekhar Chandra Mitra
3080.*पूर्णिका*
3080.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सुखी होने में,
सुखी होने में,
Sangeeta Beniwal
■ आज का चिंतन...
■ आज का चिंतन...
*Author प्रणय प्रभात*
ये आँधियाँ हालातों की, क्या इस बार जीत पायेगी ।
ये आँधियाँ हालातों की, क्या इस बार जीत पायेगी ।
Manisha Manjari
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
दुनिया में सब ही की तरह
दुनिया में सब ही की तरह
डी. के. निवातिया
मन भर बोझ हो मन पर
मन भर बोझ हो मन पर
Atul "Krishn"
*सुनहरे स्वास्थ्य से अच्छा, सुनहरा पल नहीं होता(मुक्तक)*
*सुनहरे स्वास्थ्य से अच्छा, सुनहरा पल नहीं होता(मुक्तक)*
Ravi Prakash
मेरी राहों में ख़ार
मेरी राहों में ख़ार
Dr fauzia Naseem shad
चंद एहसासात
चंद एहसासात
Shyam Sundar Subramanian
जिन्दगी की यात्रा में हम सब का,
जिन्दगी की यात्रा में हम सब का,
नेताम आर सी
चाहत
चाहत
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
परेशानियों का सामना
परेशानियों का सामना
Paras Nath Jha
"एक ही जीवन में
पूर्वार्थ
एक नई उम्मीद
एक नई उम्मीद
Srishty Bansal
दिन ढले तो ढले
दिन ढले तो ढले
Dr.Pratibha Prakash
ऐसे साथ की जरूरत
ऐसे साथ की जरूरत
Vandna Thakur
🥀 *अज्ञानी की✍*🥀
🥀 *अज्ञानी की✍*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
💐प्रेम कौतुक-345💐
💐प्रेम कौतुक-345💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"विस्मृति"
Dr. Kishan tandon kranti
एक ऐसी दुनिया बनाऊँगा ,
एक ऐसी दुनिया बनाऊँगा ,
Rohit yadav
जहां प्रगटे अवधपुरी श्रीराम
जहां प्रगटे अवधपुरी श्रीराम
Mohan Pandey
वीर वैभव श्रृंगार हिमालय🏔️☁️🌄🌥️
वीर वैभव श्रृंगार हिमालय🏔️☁️🌄🌥️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
शिक्षा अपनी जिम्मेदारी है
शिक्षा अपनी जिम्मेदारी है
Buddha Prakash
World Books Day
World Books Day
Tushar Jagawat
Loading...