Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Apr 2024 · 1 min read

क्या हुआ गर तू है अकेला इस जहां में

क्या हुआ गर तू है अकेला इस जहां में।
हारना नहीं तू बाजी, अपनी इस जहां में।।
फहराना सदा तू अपनी विजय पताका।
नहीं मोड़ना तू अपना मुँह अपनी राह में।।
क्या हुआ गर तू है———————–।।

एक बीज से तो बन जाता है एक चमन।
एक सूरज से ही रोशन है धरती- गगन।।
मेहनत से कभी तू , जी नहीं चुराना।
होगी हजारों खुशियां, सच तेरी बाँह में।।
क्या हुआ गर तू है——————–।।

काँटों का ही ताज है, यह जिंदगी तो।
संघर्ष का ही नाम है, यह जिंदगी तो।।
तूफानों से टकराकर जो आगे बढ़ा है।
हुआ है आबाद वह, सच इस जहां में।।
क्या हुआ गर तू है——————–।।

खत्म नहीं करना जिंदगी को, होकर निराश।
छोड़ दें होना इस तरहां तू मायूस- उदास।।
ले मजा तू हँसते हुए अपनी जिंदगी का।
होगी बारिश फूलों की, सच तेरी राह में।।
क्या हुआ गर तू है——————–।।

शिक्षक एवं साहित्यकार
गुरुदीन वर्मा उर्फ़ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)

Language: Hindi
Tag: गीत
80 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मिसाल
मिसाल
Kanchan Khanna
अपने ही  में उलझती जा रही हूँ,
अपने ही में उलझती जा रही हूँ,
Davina Amar Thakral
इंद्रधनुष सा यह जीवन अपना,
इंद्रधनुष सा यह जीवन अपना,
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
हर किसी के लिए मौसम सुहाना नहीं होता,
हर किसी के लिए मौसम सुहाना नहीं होता,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
भावनाओं की किसे पड़ी है
भावनाओं की किसे पड़ी है
Vaishaligoel
व्यक्ति के शब्द ही उसके सोच को परिलक्षित कर देते है शब्द आपक
व्यक्ति के शब्द ही उसके सोच को परिलक्षित कर देते है शब्द आपक
Rj Anand Prajapati
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
नूरफातिमा खातून नूरी
जब मैं परदेश जाऊं
जब मैं परदेश जाऊं
gurudeenverma198
और क्या ज़िंदगी का हासिल है
और क्या ज़िंदगी का हासिल है
Shweta Soni
जिंदगी
जिंदगी
Sangeeta Beniwal
हम फर्श पर गुमान करते,
हम फर्श पर गुमान करते,
Neeraj Agarwal
खुद के साथ ....खुशी से रहना......
खुद के साथ ....खुशी से रहना......
Dheerja Sharma
"शब्दों का सफ़र"
Dr. Kishan tandon kranti
Legal Quote
Legal Quote
GOVIND UIKEY
यूं ही हमारी दोस्ती का सिलसिला रहे।
यूं ही हमारी दोस्ती का सिलसिला रहे।
सत्य कुमार प्रेमी
मोर मुकुट संग होली
मोर मुकुट संग होली
Dinesh Kumar Gangwar
मेखला धार
मेखला धार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
जो ना कहता है
जो ना कहता है
Otteri Selvakumar
राममय जगत
राममय जगत
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
वर्तमान परिस्थिति - एक चिंतन
वर्तमान परिस्थिति - एक चिंतन
Shyam Sundar Subramanian
होठों पर मुस्कान,आँखों में नमी है।
होठों पर मुस्कान,आँखों में नमी है।
लक्ष्मी सिंह
*पत्रिका समीक्षा*
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
काश कही ऐसा होता
काश कही ऐसा होता
Swami Ganganiya
23/195. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/195. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
थक गये है हम......ख़ुद से
थक गये है हम......ख़ुद से
shabina. Naaz
🙅कमिंग सून🙅
🙅कमिंग सून🙅
*प्रणय प्रभात*
दोस्ती का रिश्ता
दोस्ती का रिश्ता
विजय कुमार अग्रवाल
मेरा जीवन,मेरी सांसे सारा तोहफा तेरे नाम। मौसम की रंगीन मिज़ाजी,पछुवा पुरवा तेरे नाम। ❤️
मेरा जीवन,मेरी सांसे सारा तोहफा तेरे नाम। मौसम की रंगीन मिज़ाजी,पछुवा पुरवा तेरे नाम। ❤️
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
Anand Kumar
How to Build a Healthy Relationship?
How to Build a Healthy Relationship?
Bindesh kumar jha
Loading...