Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jan 2024 · 1 min read

कोशिश करना आगे बढ़ना

कोशिश करना आगे बढ़ना , तेरा यही प्रयास हो
मुश्किलों से तू न डरना , हौसलों की आस हो

रहना सजग तुम हमेशा , खामोशी का न साथ हो
कीर्ति पताका फहरे तुम्हारी , सिर पर गगन विशाल हो

डरना नहीं तुम आँधियों से , साहस तुम्हारे साथ हो
विषाद से तुम दूर रहना , धैर्य तेरे साथ हो

आदर्शों की गंगा बहाओ , संस्कार तेरे साथ हो
हे मानव तुम हो प्रतापी , उस परमेश्वर की संतान हो

रखना बचा खुद को जहां से , सत्मार्ग तेरी राह हो
विरले विचारों से तू दमके , धरोहर तेरी अपार हो

सरिता सी पावन कीर्ति तेरी , महिमा तेरी अपार हो
चमके सितारा बुलंदियों पर , तुझ पर समय की न मार हो

हे मानव पुण्यमूर्ति तुम , ह्रदय तेरा विशाल हो
चर्चा तेरी दोनों जहां में , उस प्रभु का तुझ पर हाथ हो

कोशिश करना आगे बढ़ना , तेरा यही प्रयास हो
मुश्किलों से तू न डरना , हौसलों की आस हो

कोशिश करना आगे बढ़ना , तेरा यही प्रयास हो
मुश्किलों से तू न डरना , हौसलों की आस हो

रहना सजग तुम हमेशा , खामोशी का न साथ हो
कीर्ति पताका फहरे तुम्हारी , सिर पर गगन विशाल हो

Language: Hindi
1 Like · 111 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
View all
You may also like:
मेरा जीवन,मेरी सांसे सारा तोहफा तेरे नाम। मौसम की रंगीन मिज़ाजी,पछुवा पुरवा तेरे नाम। ❤️
मेरा जीवन,मेरी सांसे सारा तोहफा तेरे नाम। मौसम की रंगीन मिज़ाजी,पछुवा पुरवा तेरे नाम। ❤️
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
*** लम्हा.....!!! ***
*** लम्हा.....!!! ***
VEDANTA PATEL
ऐसे हैं हमारे राम
ऐसे हैं हमारे राम
Shekhar Chandra Mitra
प्यार के सिलसिले
प्यार के सिलसिले
Basant Bhagawan Roy
ब्राह्मण बुराई का पात्र नहीं है
ब्राह्मण बुराई का पात्र नहीं है
शेखर सिंह
।। लक्ष्य ।।
।। लक्ष्य ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
कुछ लिखा हैं तुम्हारे लिए, तुम सुन पाओगी क्या
कुछ लिखा हैं तुम्हारे लिए, तुम सुन पाओगी क्या
Writer_ermkumar
कुंडलिया छंद की विकास यात्रा
कुंडलिया छंद की विकास यात्रा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
लव यू इंडिया
लव यू इंडिया
Kanchan Khanna
तिरे रूह को पाने की तश्नगी नहीं है मुझे,
तिरे रूह को पाने की तश्नगी नहीं है मुझे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*रामलला त्रेता में जन्में, पूर्ण ब्रह्म अवतार हैं (हिंदी गजल
*रामलला त्रेता में जन्में, पूर्ण ब्रह्म अवतार हैं (हिंदी गजल
Ravi Prakash
" सुन‌ सको तो सुनों "
Aarti sirsat
फूल कुदरत का उपहार
फूल कुदरत का उपहार
Harish Chandra Pande
जो
जो "समाधान" के योग्य नहीं, वो स्वयं समस्या है। उसे "समस्या"
*प्रणय प्रभात*
किसी की याद मे आँखे नम होना,
किसी की याद मे आँखे नम होना,
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
" सर्कस सदाबहार "
Dr Meenu Poonia
नहीं देखा....🖤
नहीं देखा....🖤
Srishty Bansal
वेलेंटाइन डे
वेलेंटाइन डे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कोरा कागज और मेरे अहसास.....
कोरा कागज और मेरे अहसास.....
Santosh Soni
मेरे मरने के बाद
मेरे मरने के बाद
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
अनचाहे अपराध व प्रायश्चित
अनचाहे अपराध व प्रायश्चित
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
1...
1...
Kumud Srivastava
पता नहीं कब लौटे कोई,
पता नहीं कब लौटे कोई,
महेश चन्द्र त्रिपाठी
यात्राओं से अर्जित अनुभव ही एक लेखक की कलम की शब्द शक्ति , व
यात्राओं से अर्जित अनुभव ही एक लेखक की कलम की शब्द शक्ति , व
Shravan singh
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
3216.*पूर्णिका*
3216.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हम उन्हें कितना भी मनाले
हम उन्हें कितना भी मनाले
The_dk_poetry
आप और हम जीवन के सच
आप और हम जीवन के सच
Neeraj Agarwal
"मन बावरा"
Dr. Kishan tandon kranti
भूख
भूख
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
Loading...