Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jun 2016 · 1 min read

कुछ तो कर गुजरने का…..

?
कुछ तो कर गुजरने का
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
कुछ तो कर गुजरने का
हवा पैगाम लाया है ।
सच की हर हया की
अम्न का तहजीब लाया है ।।

है छा रहा बादल हरे
आकाश को ढकने लगा ।
हैवानियत भी बन कहर
अब बून्द सी बनने लगी ।।
अब तो आशियाँ में एक
दिशा वाजिब लाया है ।
कुछ तो कर गुजरने का……………..

एक को हक़ और दूजे
को नहीं मिलता ।
क्यों नहीं जो एक को
सबको वही मिलता ।।
अब तो धूर्त के गर्दन का
एक परिमाप लाया है ।
कुछ तो कर गुजरने का………………

रौशनी जबतक नहीं
होता तभी तक है तिमिर ।
मौन जबतक “सामरिक” है
ये व्यवस्था है बधिर ।।
अब तो हर तिमिर का
तोड़ सत का दीप आया है ।
कुछ तो कर गुजरने का…………….


सामरिक अरुण
3 जून 2016

Language: Hindi
Tag: गीत
193 Views
You may also like:
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
Ram Krishan Rastogi
स्मृति चिन्ह
Shyam Sundar Subramanian
जब तुम
shabina. Naaz
स्वाधीनता आंदोलन में, मातृशक्ति ने परचम लहराया था
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बारिश
AMRESH KUMAR VERMA
तुम्हें सुकूँ सा मिले।
Taj Mohammad
✍️बेवफ़ा मोहब्बत✍️
'अशांत' शेखर
बदला
शिव प्रताप लोधी
कभी हक़ किसी पर
Dr fauzia Naseem shad
अजीब मनोस्थिति "
Dr Meenu Poonia
भारत लोकतंत्र एक पर्याय
Rj Anand Prajapati
भक्ति रस
लक्ष्मी सिंह
बेवफाई
Anamika Singh
"निर्झर"
Ajit Kumar "Karn"
माँ
अश्क चिरैयाकोटी
क्यों बात करते हो.......
J_Kay Chhonkar
हुक़ूमत के ग़ुलाम नहीं हम
Shekhar Chandra Mitra
*बोले गणेश जी (बाल कविता)*
Ravi Prakash
हिन्दी के हित प्यार चाहिए
surenderpal vaidya
निद्रा
Vikas Sharma'Shivaaya'
प्रश्न
विजय कुमार 'विजय'
ज्योतिरादित्य सिन्धिया
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बचपन पुराना रे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
कुछ तो है उनके प्यार में
Buddha Prakash
गरीबी
कवि दीपक बवेजा
A solution:-happiness
Aditya Prakash
🌺✍️मेरे क़रार की अहमियत समझो✍️🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
शौक मर गए सब !
ओनिका सेतिया 'अनु '
दिलदार आना बाकी है
Jatashankar Prajapati
मेरे गाँव में होने लगा है शामिल थोड़ा शहर [प्रथम...
AJAY AMITABH SUMAN
Loading...