Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Jun 2023 · 1 min read

का कहीं रहन अपना सास के

नून, तेल,मरिचा देली नाप के
का कहीं रहन अपना सास के

कहेली अपना के बड़ा भागमानी
चलती चलावेली जैसे महारानी
करे ली नाही एको कौनो कार
सुतले – सुतले तबो जाली हार

बात- बात पर बोलेली डांट के,
का कहीं रहन अपना सास के ।

केहू से देखली जे बतियावल
चारुओर फोन लागेली घुमावल
तनको हमरा के बइठल देखली
बेरहीन,रसीयाव के आडर देहली

तरमस- तरमस चलेली नाच के
का कहीं रहन अपना सास के

लुर ना ढंग दुनिया भर के बवंडर
पतोहु बिछेली ली आल राउंडर
दहेज चाही हुमचउवा भरपूर
लड़की के बाप खेत बेचे धूरेधुर

सबके कहेली काम के न काज के
का कहीं रहन अपना सास के

नूर फातिमा खातून नूरी
जिला -कुशीनगर
उत्तर प्रदेश

Language: Bhojpuri
144 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"अतीत"
Dr. Kishan tandon kranti
राजनीति
राजनीति
Bodhisatva kastooriya
बच्चे का संदेश
बच्चे का संदेश
Anjali Choubey
*माता हीराबेन (कुंडलिया)*
*माता हीराबेन (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सुहागन का शव
सुहागन का शव
Anil "Aadarsh"
मातृभाषा हिन्दी
मातृभाषा हिन्दी
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
बेवजह कदमों को चलाए है।
बेवजह कदमों को चलाए है।
Taj Mohammad
दरोगा तेरा पेट
दरोगा तेरा पेट
Satish Srijan
आखिरी दिन होगा वो
आखिरी दिन होगा वो
shabina. Naaz
मन की पीड़ा क
मन की पीड़ा क
Neeraj Agarwal
कबीर ज्ञान सार
कबीर ज्ञान सार
भूरचन्द जयपाल
*मेरा विश्वास*
*मेरा विश्वास*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मर्द रहा
मर्द रहा
Kunal Kanth
जिंदगी
जिंदगी
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
तू
तू
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
तेरी यादों को रखा है सजाकर दिल में कुछ ऐसे
तेरी यादों को रखा है सजाकर दिल में कुछ ऐसे
Shweta Soni
मैं और मेरा यार
मैं और मेरा यार
Radha jha
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट  हो गया है
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट हो गया है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बुद्ध धम्म में चलें
बुद्ध धम्म में चलें
Buddha Prakash
माता रानी की भेंट
माता रानी की भेंट
umesh mehra
एकतरफा सारे दुश्मन माफ किये जाऐं
एकतरफा सारे दुश्मन माफ किये जाऐं
Maroof aalam
कोई जब पथ भूल जाएं
कोई जब पथ भूल जाएं
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
कर्मों के परिणाम से,
कर्मों के परिणाम से,
sushil sarna
ऐसे भी मंत्री
ऐसे भी मंत्री
Dr. Pradeep Kumar Sharma
2540.पूर्णिका
2540.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सरकार के सारे फ़ैसले
सरकार के सारे फ़ैसले
*Author प्रणय प्रभात*
दो कदम का फासला ही सही
दो कदम का फासला ही सही
goutam shaw
सफर में महोब्बत
सफर में महोब्बत
Anil chobisa
लंगोटिया यारी
लंगोटिया यारी
Sandeep Pande
Loading...