Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#27 Trending Author
Jun 7, 2022 · 2 min read

कर्मठ राष्ट्रवादी श्री राजेंद्र कुमार आर्य

कर्मठ राष्ट्रवादी श्री राजेंद्र कुमार आर्य
“”””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””
श्री राजेंद्र कुमार आर्य जी आर्य समाज पट्टी टोला रामपुर के अध्यक्ष थे । सर्वाधिक सक्रिय और जिम्मेदारी के भाव से भरे हुए व्यक्ति। आर्य समाज की पहचान जिन लोगों से होती है, वह उनमें से एक थे। पूरी गंभीरता के साथ प्रथम पंक्ति में आर्य समाज के कार्यक्रमों और गतिविधियों में सम्पूर्ण सजगता के साथ उनकी उपस्थिति रहती थी। जब भी मैं वेदकथा सुनने के लिए आर्य समाज जाता था, तो राजेंद्र कुमार आर्य जी वहां समय से पूर्व उपस्थित होते थे। समय के अनुशासन के महत्व को वह समझते थे। कार्यक्रम में अनुशासन तथा एक अनुशासित व्यवस्था का समावेश हो ऐसा उनका प्रयास रहता था ।उनके जैसे कर्मठ व्यक्ति आर्य समाज की भावना को आगे बढ़ाने वाले कम ही हैं।
वह प्रयत्न करके आर्य जगत के विद्वानों को समय-समय पर आमंत्रित करते थे । उनके कार्यक्रमों के प्रचार और प्रसार के लिए हाथ में पर्चे लेकर बाजारों में बांटने का काम तथा आग्रह पूर्वक सबको आर्य समाज में आमंत्रित करने की भूमिका का निर्वहन एक सामान्य कार्यकर्ता के नाते किया करते थे । इस तरह वह आर्य समाज के पदाधिकारी भी थे और कार्यकर्ता भी थे। तात्पर्य यह कि रामपुर के सार्वजनिक परिवेश को विशुद्ध वैदिक विचारों से भरने में उनका बड़ा भारी योगदान था।
वह एक राष्ट्रवादी व्यक्ति थे तथा बातचीतों में वह इसी बात का प्रतिपादन करते थे कि जब तक राष्ट्र के प्रति समर्पण और निष्ठा का भाव जन-जन में जागृत नहीं होगा, राष्ट्र की समस्याओं का समाधान नहीं हो पाएगा । उनका राष्ट्रीय दृष्टिकोण तथा आर्य समाज के साथ जुड़कर उस दृष्टिकोण को और भी बलवती करना यह उनकी बहुत बड़ी उपलब्धि रही ।उनकी स्मृति को मेरा प्रणाम ।
रवि प्रकाश, बाजार सर्राफा, रामपुर( उत्तर प्रदेश) मोबाइल 999 7615 451

1 Like · 1 Comment · 126 Views
You may also like:
जीवनदाता वृक्ष
AMRESH KUMAR VERMA
यह दुनिया है कैसी
gurudeenverma198
✍️सुर गातो...!✍️
'अशांत' शेखर
मूक प्रेम
Rashmi Sanjay
संविधान की गरिमा
Buddha Prakash
सौगंध
Shriyansh Gupta
अटल विश्वास दो
Saraswati Bajpai
जागो राजू, जागो...
मनोज कर्ण
नए नए जज़्बात दे रहा है।
Taj Mohammad
✍️मेरा प्रिय भारत सबसे न्यारा✍️
'अशांत' शेखर
In my Life.
Taj Mohammad
तिरंगा
लक्ष्मी सिंह
बिछड़न [भाग २]
Anamika Singh
जल की अहमियत
Utsav Kumar Aarya
जब सावन का मौसम आता
लक्ष्मी सिंह
कृष्णा आप ही...
Seema 'Tu haina'
दिल से निकली बात
shabina. Naaz
प्रदीप : श्री दिवाकर राही का हिंदी साप्ताहिक
Ravi Prakash
पूनम की रात में चांद व चांदनी
Ram Krishan Rastogi
देखा जो हुस्ने यार तो दिल भी मचल गया।
सत्य कुमार प्रेमी
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
पिता
Saraswati Bajpai
कहीं पे तो होगा नियंत्रण !
Ajit Kumar "Karn"
'इरशाद'
Godambari Negi
जीना अब बे मतलब सा लग रहा है।
Taj Mohammad
*कविवर रमेश कुमार जैन की ताजा कविता को सुनने का...
Ravi Prakash
ज़मीं की गोद में
Dr fauzia Naseem shad
मेरी आंखों में
Dr fauzia Naseem shad
हौंसलों की कमी नहीं लेकिन ।
Dr fauzia Naseem shad
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
Loading...