Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Jan 2017 · 1 min read

छुअन

जब भी
तुम कभी
मुस्कुराते हुए
अपनापन जताते हुए
मेरे करीब तुम आते हो
तब-तब पराए सा लगते हो

जब कभी
शाम ढले
दीप जले
सकुचाते हुए
दूर जाते हुए
ओझल होते हुए
बुझी-बुझी सी तुम दिखते हो
दिल की गहराइयों को छू जाते हो

Language: Hindi
235 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*बिना तुम्हारे घर के भीतर, अब केवल सन्नाटा है ((गीत)*
*बिना तुम्हारे घर के भीतर, अब केवल सन्नाटा है ((गीत)*
Ravi Prakash
किसी नौजवान से
किसी नौजवान से
Shekhar Chandra Mitra
तूं मुझे एक वक्त बता दें....
तूं मुझे एक वक्त बता दें....
Keshav kishor Kumar
सुनो पहाड़ की.....!!!! (भाग - ६)
सुनो पहाड़ की.....!!!! (भाग - ६)
Kanchan Khanna
वाह भाई वाह
वाह भाई वाह
gurudeenverma198
#मौसनी_मसखरी
#मौसनी_मसखरी
*Author प्रणय प्रभात*
प्यार का पंचनामा
प्यार का पंचनामा
Dr Parveen Thakur
" माँ "
Dr. Kishan tandon kranti
आँखें
आँखें
लक्ष्मी सिंह
जिसे तुम ढूंढती हो
जिसे तुम ढूंढती हो
Basant Bhagawan Roy
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
ख़ान इशरत परवेज़
मेरी लाज है तेरे हाथ
मेरी लाज है तेरे हाथ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मेरे शब्द, मेरी कविता, मेरे गजल, मेरी ज़िन्दगी का अभिमान हो तुम।
मेरे शब्द, मेरी कविता, मेरे गजल, मेरी ज़िन्दगी का अभिमान हो तुम।
Anand Kumar
अर्ज किया है
अर्ज किया है
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
कहमुकरी
कहमुकरी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
#क्या_पता_मैं_शून्य_हो_जाऊं
#क्या_पता_मैं_शून्य_हो_जाऊं
The_dk_poetry
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
किरदार अगर रौशन है तो
किरदार अगर रौशन है तो
shabina. Naaz
💐 Prodigy Love-5💐
💐 Prodigy Love-5💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गज़ले
गज़ले
Dr fauzia Naseem shad
प्रेम लौटता है धीमे से
प्रेम लौटता है धीमे से
Surinder blackpen
3132.*पूर्णिका*
3132.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*पेड़*
*पेड़*
Dushyant Kumar
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
लम्हों की तितलियाँ
लम्हों की तितलियाँ
Karishma Shah
लोग कहते हैं कि प्यार अँधा होता है।
लोग कहते हैं कि प्यार अँधा होता है।
आनंद प्रवीण
दोहे- उदास
दोहे- उदास
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
राम राम सिया राम
राम राम सिया राम
नेताम आर सी
भ्रष्टाचार
भ्रष्टाचार
Paras Nath Jha
प्रसाद का पूरा अर्थ
प्रसाद का पूरा अर्थ
Radhakishan R. Mundhra
Loading...