Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Jun 2023 · 1 min read

#कटाक्ष

#कटाक्ष
■ मध्य-मार्गी सदा सुखी।

1 Like · 167 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
गुरु पूर्णिमा आ वर्तमान विद्यालय निरीक्षण आदेश।
गुरु पूर्णिमा आ वर्तमान विद्यालय निरीक्षण आदेश।
Acharya Rama Nand Mandal
प्रेम
प्रेम
Satish Srijan
* बातें व्यर्थ की *
* बातें व्यर्थ की *
surenderpal vaidya
दोलत - शोरत कर रहे, हम सब दिनों - रात।
दोलत - शोरत कर रहे, हम सब दिनों - रात।
Anil chobisa
2599.पूर्णिका
2599.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
बाहर से खिलखिला कर हंसता हुआ
बाहर से खिलखिला कर हंसता हुआ
Ranjeet kumar patre
राधा कृष्ण होली भजन
राधा कृष्ण होली भजन
Khaimsingh Saini
........,?
........,?
शेखर सिंह
'उड़ाओ नींद के बादल खिलाओ प्यार के गुलशन
'उड़ाओ नींद के बादल खिलाओ प्यार के गुलशन
आर.एस. 'प्रीतम'
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं।
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बेगुनाही एक गुनाह
बेगुनाही एक गुनाह
Shekhar Chandra Mitra
कुछ मन की कोई बात लिख दूँ...!
कुछ मन की कोई बात लिख दूँ...!
Aarti sirsat
*कौन-सो रतन बनूँ*
*कौन-सो रतन बनूँ*
Poonam Matia
यही मेरे दिल में ख्याल चल रहा है तुम मुझसे ख़फ़ा हो या मैं खुद
यही मेरे दिल में ख्याल चल रहा है तुम मुझसे ख़फ़ा हो या मैं खुद
Ravi Betulwala
आजा आजा रे कारी बदरिया
आजा आजा रे कारी बदरिया
Indu Singh
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
■ आज का परिहास...
■ आज का परिहास...
*प्रणय प्रभात*
खुली किताब सी लगती हो
खुली किताब सी लगती हो
Jitendra Chhonkar
"कामयाबी"
Dr. Kishan tandon kranti
Remembering that winter Night
Remembering that winter Night
Bidyadhar Mantry
कर दिया समर्पण सब कुछ तुम्हे प्रिय
कर दिया समर्पण सब कुछ तुम्हे प्रिय
Ram Krishan Rastogi
सत्य की खोज अधूरी है
सत्य की खोज अधूरी है
VINOD CHAUHAN
‘ विरोधरस ‘---4. ‘विरोध-रस’ के अन्य आलम्बन- +रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---4. ‘विरोध-रस’ के अन्य आलम्बन- +रमेशराज
कवि रमेशराज
The wrong partner in your life will teach you that you can d
The wrong partner in your life will teach you that you can d
पूर्वार्थ
नील गगन
नील गगन
नवीन जोशी 'नवल'
मोहब्बत जताई गई, इश्क फरमाया गया
मोहब्बत जताई गई, इश्क फरमाया गया
Kumar lalit
*वो जो दिल के पास है*
*वो जो दिल के पास है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
!! कुद़रत का संसार !!
!! कुद़रत का संसार !!
Chunnu Lal Gupta
प्रियवर
प्रियवर
लक्ष्मी सिंह
इंसान अपनी ही आदतों का गुलाम है।
इंसान अपनी ही आदतों का गुलाम है।
Sangeeta Beniwal
Loading...