Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Feb 2024 · 1 min read

“ऐ मितवा”

“ऐ मितवा”
तुझ बिन तो
फकत ये उम्र ढल रही है,
जैसे जिन्दगी
रेत की तरह फिसल रही है।

2 Likes · 2 Comments · 54 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
गजल
गजल
Punam Pande
सुन्दरता।
सुन्दरता।
Anil Mishra Prahari
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
Vicky Purohit
నా గ్రామం
నా గ్రామం
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
पत्नीजी मायके गयी,
पत्नीजी मायके गयी,
Satish Srijan
भ्रष्टाचार ने बदल डाला
भ्रष्टाचार ने बदल डाला
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
वर्तमान के युवा शिक्षा में उतनी रुचि नहीं ले रहे जितनी वो री
वर्तमान के युवा शिक्षा में उतनी रुचि नहीं ले रहे जितनी वो री
Rj Anand Prajapati
के जब तक दिल जवां होता नहीं है।
के जब तक दिल जवां होता नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
सफ़ीना छीन कर सुनलो किनारा तुम न पाओगे
सफ़ीना छीन कर सुनलो किनारा तुम न पाओगे
आर.एस. 'प्रीतम'
"नायक"
Dr. Kishan tandon kranti
वक्रतुंडा शुचि शुंदा सुहावना,
वक्रतुंडा शुचि शुंदा सुहावना,
Neelam Sharma
💐अज्ञात के प्रति-87💐
💐अज्ञात के प्रति-87💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपनों की जीत
अपनों की जीत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
Dr MusafiR BaithA
5 हाइकु
5 हाइकु
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*निरोगी तन हमेशा सुख का, मूलाधार होता है 【मुक्तक】*
*निरोगी तन हमेशा सुख का, मूलाधार होता है 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
धरती करें पुकार
धरती करें पुकार
नूरफातिमा खातून नूरी
आइये, तिरंगा फहरायें....!!
आइये, तिरंगा फहरायें....!!
Kanchan Khanna
🍂तेरी याद आए🍂
🍂तेरी याद आए🍂
Dr Manju Saini
23/60.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/60.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Learn lesson and enjoy every moment, your past is just a cha
Learn lesson and enjoy every moment, your past is just a cha
Nupur Pathak
तू ही हमसफर, तू ही रास्ता, तू ही मेरी मंजिल है,
तू ही हमसफर, तू ही रास्ता, तू ही मेरी मंजिल है,
Rajesh Kumar Arjun
दोहा त्रयी. . . .
दोहा त्रयी. . . .
sushil sarna
तोड़ कर खुद को
तोड़ कर खुद को
Dr fauzia Naseem shad
माय
माय
Acharya Rama Nand Mandal
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Manisha Manjari
तेरी चौखट पर, आये हैं हम ओ रामापीर
तेरी चौखट पर, आये हैं हम ओ रामापीर
gurudeenverma198
मेरे बाबूजी लोककवि रामचरन गुप्त +डॉ. सुरेश त्रस्त
मेरे बाबूजी लोककवि रामचरन गुप्त +डॉ. सुरेश त्रस्त
कवि रमेशराज
Preparation is
Preparation is
Dhriti Mishra
■ ट्रिक
■ ट्रिक
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...