Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Apr 2023 · 1 min read

एहसास दिला देगा

वक़्त किसे कहतें हैं
तुझे एहसास दिला देगा।
पहुंचा के बुलंदी पर
तुझे मिट्टी में मिला देगा ।।
गुज़रेगा कभी ऐसे भी
तेरी पहचान मिटा देगा।
अपने और पराये का भी
एहसास दिला देगा ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
8 Likes · 244 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
मेरा शहर
मेरा शहर
विजय कुमार अग्रवाल
किसी गैर के पल्लू से बंधी चवन्नी को सिक्का समझना मूर्खता होत
किसी गैर के पल्लू से बंधी चवन्नी को सिक्का समझना मूर्खता होत
विमला महरिया मौज
आखों में नमी की कमी नहीं
आखों में नमी की कमी नहीं
goutam shaw
आजकल अकेले में बैठकर रोना पड़ रहा है
आजकल अकेले में बैठकर रोना पड़ रहा है
Keshav kishor Kumar
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
अगर सक्सेज चाहते हो तो रुककर पीछे देखना छोड़ दो - दिनेश शुक्
अगर सक्सेज चाहते हो तो रुककर पीछे देखना छोड़ दो - दिनेश शुक्
dks.lhp
तुम नहीं बदले___
तुम नहीं बदले___
Rajesh vyas
'समय की सीख'
'समय की सीख'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
🏞️प्रकृति 🏞️
🏞️प्रकृति 🏞️
Vandna thakur
हजारों  रंग  दुनिया  में
हजारों रंग दुनिया में
shabina. Naaz
8) “चन्द्रयान भारत की शान”
8) “चन्द्रयान भारत की शान”
Sapna Arora
आब त रावणक राज्य अछि  सबतरि ! गाम मे ,समाज मे ,देशक कोन - को
आब त रावणक राज्य अछि सबतरि ! गाम मे ,समाज मे ,देशक कोन - को
DrLakshman Jha Parimal
चन्द्रमाँ
चन्द्रमाँ
Sarfaraz Ahmed Aasee
*उठा जो देह में जादू, समझ लो आई होली है (मुक्तक)*
*उठा जो देह में जादू, समझ लो आई होली है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
रज़ा से उसकी अगर
रज़ा से उसकी अगर
Dr fauzia Naseem shad
लाइब्रेरी के कौने में, एक लड़का उदास बैठा हैं
लाइब्रेरी के कौने में, एक लड़का उदास बैठा हैं
The_dk_poetry
बेरोजगारी।
बेरोजगारी।
Anil Mishra Prahari
काहे का अभिमान
काहे का अभिमान
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
स्वर्णिम दौर
स्वर्णिम दौर
Dr. Kishan tandon kranti
Good things fall apart so that the best can come together.
Good things fall apart so that the best can come together.
Manisha Manjari
रूपेश को मिला
रूपेश को मिला "बेस्ट राईटर ऑफ द वीक सम्मान- 2023"
रुपेश कुमार
कुछ व्यंग्य पर बिल्कुल सच
कुछ व्यंग्य पर बिल्कुल सच
Ram Krishan Rastogi
■ चिंताजनक
■ चिंताजनक
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-235💐
💐प्रेम कौतुक-235💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रिमझिम बारिश
रिमझिम बारिश
Anil "Aadarsh"
बुढ़ापे में हड्डियाँ सूखा पतला
बुढ़ापे में हड्डियाँ सूखा पतला
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
मोहब्बत
मोहब्बत
अखिलेश 'अखिल'
*याद  तेरी  यार  आती है*
*याद तेरी यार आती है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
दिखता अगर फ़लक पे तो हम सोचते भी कुछ
दिखता अगर फ़लक पे तो हम सोचते भी कुछ
Shweta Soni
एक कुंडलिया
एक कुंडलिया
SHAMA PARVEEN
Loading...