Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jul 2022 · 1 min read

एक मुद्दत से।

एक मुद्दत से हमको सजा मिल रही है।
ये जिंदगी भी अबतो बेवफा हो रही है।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

Language: Hindi
Tag: शेर
1 Like · 2 Comments · 188 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Taj Mohammad
View all
You may also like:
" मिलन की चाह "
DrLakshman Jha Parimal
प्रथम मिलन
प्रथम मिलन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
अवधी मुक्तक
अवधी मुक्तक
प्रीतम श्रावस्तवी
गवाह तिरंगा बोल रहा आसमान 🇮🇳
गवाह तिरंगा बोल रहा आसमान 🇮🇳
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
स्वाभिमान
स्वाभिमान
Shyam Sundar Subramanian
*तिरंगा मेरे  देश की है शान दोस्तों*
*तिरंगा मेरे देश की है शान दोस्तों*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
दाम रिश्तों के
दाम रिश्तों के
Dr fauzia Naseem shad
अधखिला फूल निहार रहा है
अधखिला फूल निहार रहा है
VINOD CHAUHAN
............
............
शेखर सिंह
🙏🙏
🙏🙏
Neelam Sharma
धरा प्रकृति माता का रूप
धरा प्रकृति माता का रूप
Buddha Prakash
हमारे तो पूजनीय भीमराव है
हमारे तो पूजनीय भीमराव है
gurudeenverma198
"Know Your Worth"
पूर्वार्थ
उतर गया प्रज्ञान चांद पर, भारत का मान बढ़ाया
उतर गया प्रज्ञान चांद पर, भारत का मान बढ़ाया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
चार मुक्तक
चार मुक्तक
Suryakant Dwivedi
"आइडिया"
Dr. Kishan tandon kranti
गल्प इन किश एण्ड मिश
गल्प इन किश एण्ड मिश
प्रेमदास वसु सुरेखा
पिता का प्यार
पिता का प्यार
Befikr Lafz
■ पता नहीं इतनी सी बात स्वयम्भू विश्वगुरुओं को समझ में क्यों
■ पता नहीं इतनी सी बात स्वयम्भू विश्वगुरुओं को समझ में क्यों
*प्रणय प्रभात*
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
Otteri Selvakumar
मकर संक्रांति -
मकर संक्रांति -
Raju Gajbhiye
सर्द हवाएं
सर्द हवाएं
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
वो केवल श्रृष्टि की कर्ता नहीं है।
वो केवल श्रृष्टि की कर्ता नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
*कर्मठ व्यक्तित्व श्री राज प्रकाश श्रीवास्तव*
*कर्मठ व्यक्तित्व श्री राज प्रकाश श्रीवास्तव*
Ravi Prakash
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
Dr. Man Mohan Krishna
रोना भी जरूरी है
रोना भी जरूरी है
Surinder blackpen
प्रबुद्ध कौन?
प्रबुद्ध कौन?
Sanjay ' शून्य'
हम उफ ना करेंगे।
हम उफ ना करेंगे।
Taj Mohammad
ये तुम्हें क्या हो गया है.......!!!!
ये तुम्हें क्या हो गया है.......!!!!
shabina. Naaz
पढ़े-लिखे पर मूढ़
पढ़े-लिखे पर मूढ़
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
Loading...