Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#5 Trending Author
May 21, 2022 · 1 min read

एक पनिहारिन की वेदना

सुन सखा,मेरे कृष्ण कन्हैया,
पूछ रही है मेरी सभी सखियां।
कैसे फूटी तेरी जल की गगरिया,
क्यो भीगी तेरी लाल चुनररिया।

कर रही है सभी सखि ठिठोली,
इन सबके पीछे क्या है पहेली।
मै उनका उत्तर कैसे दे पाऊं,
शर्म लाज में मैं भर भर जाऊं।।

पूछ रही है एक एक बतिया,
कैसे बताऊं मैं सारी बतिया।
समझ में मेरी कछु न आवे,
कोई कैसे उन्हे अब समझावे।।

एक सखि ने यहां तक पूछ डाला,
कैसे हो गई तेरी गीली घघरिया।
तू यमुना में कही जाके गिरी थी,
या यमुना तो पर आके गिरी थी।

उनके प्रश्नों को उत्तर मैने दे डाला,
उनके मुंह को ऐसे बन्द कर डाला
कृष्ण कन्हाई ने मारी थी कंकरिया
फूट गई थी तभी मेरी ये गगरिया।

फूटी गागरिया तो गीली हुई घघरिया,
ये नटखट है मेरा कृष्ण सावरियां।
याकि शिकायत करूंगी मै मैया से
तभी लेगी मैया इसकी खबररिया।।

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

6 Likes · 8 Comments · 171 Views
You may also like:
वक़्त
Mahendra Rai
"एक नई सुबह आयेगी"
पंकज कुमार "कर्ण"
तुम जो मिल गई हो।
Taj Mohammad
प्रकृति का उपहार
Anamika Singh
तेरी हर बात सनद है, हद है
Anis Shah
ज़ुबान से फिर गया नज़र के सामने
कुमार अविनाश केसर
विश्व पुस्तक दिवस
Rohit yadav
अरदास
Buddha Prakash
" फ़ोटो "
Dr Meenu Poonia
भेड़ चाल में फंसी माँ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
कर्म में कौशल लाना होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
लिख लेते हैं थोड़ा थोड़ा
सूर्यकांत द्विवेदी
!?! सावधान कोरोना स्लोगन !?!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
ट्रेजरी का पैसा
Mahendra Rai
खोलो मन की सारी गांठे
Saraswati Bajpai
पंचशील गीत
Buddha Prakash
गुफ़्तगू का ढंग आना चाहिए
अश्क चिरैयाकोटी
विन्यास
DR ARUN KUMAR SHASTRI
रत्नों में रत्न है मेरे बापू
Nitu Sah
हुस्न में आफरीन लगती हो
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
*** वीरता
Prabhavari Jha
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
Renuka Chauhan
तेरा ख्याल।
Taj Mohammad
पापा को मैं पास में पाऊँ
Dr. Pratibha Mahi
Crumbling Wall
Manisha Manjari
O brave soldiers.
Taj Mohammad
✍️ये आज़माईश कैसी?✍️
"अशांत" शेखर
मुझसे बचकर वह अब जायेगा कहां
Ram Krishan Rastogi
✍️सब खुदा हो गये✍️
"अशांत" शेखर
Loading...