Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Nov 2023 · 1 min read

उम्र के हर एक पड़ाव की तस्वीर क़ैद कर लेना

उम्र के हर एक पड़ाव की तस्वीर क़ैद कर लेना
अगर आईना सामने हो तो जी भरके देख लेना

वक़्त के साथ सूरत-ए- हाल भी बदल जाते है
दिल सुलग रहा शोलों सा तो आग में बदल लेना

‘अशांत’ शेखर
19/11/2023

1 Like · 2 Comments · 134 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
परिवर्तन
परिवर्तन
Paras Nath Jha
फटे रह गए मुंह दुनिया के, फटी रह गईं आंखें दंग।
फटे रह गए मुंह दुनिया के, फटी रह गईं आंखें दंग।
*Author प्रणय प्रभात*
-- कटते पेड़ --
-- कटते पेड़ --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
*फागुन कह रहा मन से( गीत)*
*फागुन कह रहा मन से( गीत)*
Ravi Prakash
यादों का झरोखा
यादों का झरोखा
Madhavi Srivastava
*जय सियाराम राम राम राम...*
*जय सियाराम राम राम राम...*
Harminder Kaur
2670.*पूर्णिका*
2670.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
इस धरातल के ताप का नियंत्रण शैवाल,पेड़ पौधे और समन्दर करते ह
इस धरातल के ताप का नियंत्रण शैवाल,पेड़ पौधे और समन्दर करते ह
Rj Anand Prajapati
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
रिश्तों की कसौटी
रिश्तों की कसौटी
VINOD CHAUHAN
किसी ज्योति ने मुझको यूं जीवन दिया
किसी ज्योति ने मुझको यूं जीवन दिया
gurudeenverma198
पुष्प
पुष्प
Dhirendra Singh
हे अयोध्या नाथ
हे अयोध्या नाथ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बच्चे
बच्चे
Shivkumar Bilagrami
हृदय कुंज  में अवतरित, हुई पिया की याद।
हृदय कुंज में अवतरित, हुई पिया की याद।
sushil sarna
अबोध अंतस....
अबोध अंतस....
Santosh Soni
बेरोजगारों को वैलेंटाइन खुद ही बनाना पड़ता है......
बेरोजगारों को वैलेंटाइन खुद ही बनाना पड़ता है......
कवि दीपक बवेजा
सीरिया रानी
सीरिया रानी
Dr. Mulla Adam Ali
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
उन कचोटती यादों का क्या
उन कचोटती यादों का क्या
Atul "Krishn"
*जब एक ही वस्तु कभी प्रीति प्रदान करने वाली होती है और कभी द
*जब एक ही वस्तु कभी प्रीति प्रदान करने वाली होती है और कभी द
Shashi kala vyas
पड़े विनय को सीखना,
पड़े विनय को सीखना,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बे खुदी में सवाल करते हो
बे खुदी में सवाल करते हो
SHAMA PARVEEN
गमों के साये
गमों के साये
Swami Ganganiya
बेटा बेटी का विचार
बेटा बेटी का विचार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
Armano me sajaya rakha jisse,
Armano me sajaya rakha jisse,
Sakshi Tripathi
कहां गये हम
कहां गये हम
Surinder blackpen
दिखावा कि कुछ हुआ ही नहीं
दिखावा कि कुछ हुआ ही नहीं
पूर्वार्थ
Rap song (1)
Rap song (1)
Nishant prakhar
गांव अच्छे हैं।
गांव अच्छे हैं।
Amrit Lal
Loading...