Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Sep 2022 · 1 min read

इंकलाब की तैयारी

हक़ के लिए एहतिजाज़ की
तैयारी में लग जाइए!
बगावत से लबरेज़ अंदाज़ की
तैयारी में लग जाइए!
आने वाला दौर निहायत
संगीन होने वाला है!
अब एक और इंकलाब की
तैयारी में लग जाइए!
#इंकलाबी #गुलामी #मानसिक #शायर
#विद्रोही #sprit #protest #आरक्षण
#बहुजन #दलित #आदिवासी #औरत

Language: Hindi
132 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मैं एक महल हूं।
मैं एक महल हूं।
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
*गर्मी पर दोहा*
*गर्मी पर दोहा*
Dushyant Kumar
शीर्षक – वह दूब सी
शीर्षक – वह दूब सी
Manju sagar
वो न जाने कहाँ तक मुझको आजमाएंगे
वो न जाने कहाँ तक मुझको आजमाएंगे
VINOD CHAUHAN
#गुरू#
#गुरू#
rubichetanshukla 781
*अध्याय 4*
*अध्याय 4*
Ravi Prakash
"गुस्सा थूंको"
Dr. Kishan tandon kranti
हिन्दू और तुर्क दोनों को, सीधे शब्दों में चेताया
हिन्दू और तुर्क दोनों को, सीधे शब्दों में चेताया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
गिलहरी
गिलहरी
Satish Srijan
हिम्मत कभी न हारिए
हिम्मत कभी न हारिए
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
तकलीफ ना होगी मरने मे
तकलीफ ना होगी मरने मे
Anil chobisa
सौन्दर्य के मक़बूल, इश्क़! तुम क्या जानो प्रिय ?
सौन्दर्य के मक़बूल, इश्क़! तुम क्या जानो प्रिय ?
Varun Singh Gautam
ग़म कड़वे पर हैं दवा, पीकर करो इलाज़।
ग़म कड़वे पर हैं दवा, पीकर करो इलाज़।
आर.एस. 'प्रीतम'
दोहा -
दोहा -
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
देखिए मायका चाहे अमीर हो या गरीब
देखिए मायका चाहे अमीर हो या गरीब
शेखर सिंह
मुजरिम करार जब कोई क़ातिल...
मुजरिम करार जब कोई क़ातिल...
अश्क चिरैयाकोटी
गीत// कितने महंगे बोल तुम्हारे !
गीत// कितने महंगे बोल तुम्हारे !
Shiva Awasthi
लक्ष्य
लक्ष्य
Suraj Mehra
अन्न का मान
अन्न का मान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ज़िन्दगी के सफर में राहों का मिलना निरंतर,
ज़िन्दगी के सफर में राहों का मिलना निरंतर,
Sahil Ahmad
वक़्त की पहचान🙏
वक़्त की पहचान🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
हमारी राष्ट्रभाषा हिन्दी
हमारी राष्ट्रभाषा हिन्दी
Mukesh Kumar Sonkar
प्रेम सुधा
प्रेम सुधा
लक्ष्मी सिंह
Lucky Number Seven!
Lucky Number Seven!
R. H. SRIDEVI
इश्क़ में सरेराह चलो,
इश्क़ में सरेराह चलो,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
3478🌷 *पूर्णिका* 🌷
3478🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
परदेसी की  याद  में, प्रीति निहारे द्वार ।
परदेसी की याद में, प्रीति निहारे द्वार ।
sushil sarna
#दोहा
#दोहा
*प्रणय प्रभात*
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
VEDANTA PATEL
दुविधा
दुविधा
Shyam Sundar Subramanian
Loading...