Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Sep 2022 · 1 min read

आप से ज़िंदगी

आप रखिए ख़्याल बस अपना ।
आप से ज़िन्दगी हमारी है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
8 Likes · 126 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
माँ
माँ
Arvina
दिल धड़कता नही अब तुम्हारे बिना
दिल धड़कता नही अब तुम्हारे बिना
Ram Krishan Rastogi
मैं ....
मैं ....
sushil sarna
विश्ववाद
विश्ववाद
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
दर्द भरा गीत यहाँ गाया जा सकता है Vinit Singh Shayar
दर्द भरा गीत यहाँ गाया जा सकता है Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
कवि रमेशराज
बचपन
बचपन
Shyam Sundar Subramanian
राम है आये!
राम है आये!
Bodhisatva kastooriya
लघुकथा - एक रुपया
लघुकथा - एक रुपया
अशोक कुमार ढोरिया
गाँधी हमेशा जिंदा है
गाँधी हमेशा जिंदा है
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
भ्रांति पथ
भ्रांति पथ
नवीन जोशी 'नवल'
भाव जिसमें मेरे वो ग़ज़ल आप हैं
भाव जिसमें मेरे वो ग़ज़ल आप हैं
Dr Archana Gupta
प्रणय 4
प्रणय 4
Ankita Patel
Learn lesson and enjoy every moment, your past is just a cha
Learn lesson and enjoy every moment, your past is just a cha
Nupur Pathak
मारुति मं बालम जी मनैं
मारुति मं बालम जी मनैं
gurudeenverma198
ईश्वर अल्लाह गाड गुरु, अपने अपने राम
ईश्वर अल्लाह गाड गुरु, अपने अपने राम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
धर्म अधर्म की बाते करते, पूरी मनवता को सतायेगा
धर्म अधर्म की बाते करते, पूरी मनवता को सतायेगा
Anil chobisa
🌹ढ़ूढ़ती हूँ अक्सर🌹
🌹ढ़ूढ़ती हूँ अक्सर🌹
Dr Shweta sood
चुनिंदा अश'आर
चुनिंदा अश'आर
Dr fauzia Naseem shad
किस्मत की लकीरें
किस्मत की लकीरें
umesh mehra
मुझे ना छेड़ अभी गर्दिशे -ज़माने तू
मुझे ना छेड़ अभी गर्दिशे -ज़माने तू
shabina. Naaz
■ चातुर्मास
■ चातुर्मास
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-547💐
💐प्रेम कौतुक-547💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
यदि मन में हो संकल्प अडिग
यदि मन में हो संकल्प अडिग
महेश चन्द्र त्रिपाठी
बुलेट ट्रेन की तरह है, सुपर फास्ट सब यार।
बुलेट ट्रेन की तरह है, सुपर फास्ट सब यार।
सत्य कुमार प्रेमी
तेरे दिल में कब आएं हम
तेरे दिल में कब आएं हम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
रखिए गीला तौलिया, मुखमंडल के पास (कुंडलिया)
रखिए गीला तौलिया, मुखमंडल के पास (कुंडलिया)
Ravi Prakash
मैं तुलसी तेरे आँगन की
मैं तुलसी तेरे आँगन की
Shashi kala vyas
!!दर्पण!!
!!दर्पण!!
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
पत्थर
पत्थर
manjula chauhan
Loading...