Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 May 2024 · 1 min read

आप कभी 15% मनुवादी सोच को समझ ही नहीं पाए

आप कभी 15% मनुवादी सोच को समझ ही नहीं पाए
वो आपको मंदिर की ओर धकेलतें रहे
और वो स्वयं संसद की ओर बढ़ते चले गए
असल मे यही मनुवाद है
-शेखर सिंह

43 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Go wherever, but only so far,
Go wherever, but only so far,"
पूर्वार्थ
"The Deity in Red"
Manisha Manjari
#पंचैती
#पंचैती
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
प्रेम की तलाश में सिला नही मिला
प्रेम की तलाश में सिला नही मिला
इंजी. संजय श्रीवास्तव
ये दिल न जाने क्या चाहता है...
ये दिल न जाने क्या चाहता है...
parvez khan
"" *भारत माता* ""
सुनीलानंद महंत
बुंदेली दोहा -तर
बुंदेली दोहा -तर
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
लोकतंत्र का खेल
लोकतंत्र का खेल
Anil chobisa
सात जन्मों की शपथ
सात जन्मों की शपथ
Bodhisatva kastooriya
Ramal musaddas saalim
Ramal musaddas saalim
sushil yadav
"तासीर"
Dr. Kishan tandon kranti
इसका क्या सबूत है, तू साथ सदा मेरा देगी
इसका क्या सबूत है, तू साथ सदा मेरा देगी
gurudeenverma198
"बेशर्मी" और "बेरहमी"
*प्रणय प्रभात*
विजेता
विजेता
Paras Nath Jha
```
```
goutam shaw
जीत मनु-विधान की / मुसाफ़िर बैठा
जीत मनु-विधान की / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
I want to tell them, they exist!!
I want to tell them, they exist!!
Rachana
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
Vijay Nagar
💐प्रेम कौतुक-562💐
💐प्रेम कौतुक-562💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
5 हाइकु
5 हाइकु
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अंधभक्तो को जितना पेलना है पेल लो,
अंधभक्तो को जितना पेलना है पेल लो,
शेखर सिंह
*
*"गौतम बुद्ध"*
Shashi kala vyas
जीवन संघर्ष
जीवन संघर्ष
Omee Bhargava
मोहब्बत का पहला एहसास
मोहब्बत का पहला एहसास
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
"डोली बेटी की"
Ekta chitrangini
*जीवन है मुस्कान (कुंडलिया)*
*जीवन है मुस्कान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मुझको मिट्टी
मुझको मिट्टी
Dr fauzia Naseem shad
मैं मेरी कहानी और मेरी स्टेटस सब नहीं समझ पाते और जो समझ पात
मैं मेरी कहानी और मेरी स्टेटस सब नहीं समझ पाते और जो समझ पात
Ranjeet kumar patre
शहरी हो जरूर तुम,
शहरी हो जरूर तुम,
Dr. Man Mohan Krishna
ख्वाब आँखों में सजा कर,
ख्वाब आँखों में सजा कर,
लक्ष्मी सिंह
Loading...