Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jan 2023 · 1 min read

आदमी को आदमी से

गीत..

आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।
भावना से युक्त हर उद्गार होना चाहिए।।

कोशिशें ऐसी करें सब आदमी होकर रहें।
ये भले हैं वो भले हैं बस यही सबसे कहें।
दुर्गुणों से हीन सुचि आचार होना चाहिए।
आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।।

ना करे कोई यहाँ पर संपदाओं का हरण।
हो युगों के चेतना की श्रेष्ठताओं का वरण।।
वेदना का फिर नहीं व्यापार होना चाहिए।
आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।।

जो धनी संभ्रान्त हैं सद्भावना से पूर्ण हों।
दीन निर्धन के नहीं सपने सुनहरे चूर्ण हो।।
एकता का देश में त्यौहार होना चाहिए।
आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।।

ना जले कोई कहीं मद द्वेष के यूँ ताप से।
जंग हो ना विश्व में फिर दूरियों के नाप से।
शत्रुता से मुक्त यह संसार होना चाहिए।।
आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।।

आदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए।
भावना से युक्त हर उद्गार होना चाहिए।।

डाॅ. राजेन्द्र सिंह ‘राही’
(बस्ती उ. प्र.)

Language: Hindi
Tag: गीत
3 Likes · 1 Comment · 164 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
23/44.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/44.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सवाल जवाब
सवाल जवाब
Dr. Pradeep Kumar Sharma
आलोचना
आलोचना
Shekhar Chandra Mitra
दो दोस्तों की कहानि
दो दोस्तों की कहानि
Sidhartha Mishra
हार जाती मैं
हार जाती मैं
Yogi B
उसकी मोहब्बत का नशा भी कमाल का था.......
उसकी मोहब्बत का नशा भी कमाल का था.......
Ashish shukla
मन
मन
Ajay Mishra
मारी थी कभी कुल्हाड़ी अपने ही पांव पर ,
मारी थी कभी कुल्हाड़ी अपने ही पांव पर ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
"प्रीत की डोर”
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
ख़ामोश हर ज़ुबाँ पर
ख़ामोश हर ज़ुबाँ पर
Dr fauzia Naseem shad
अब गूंजेगे मोहब्बत के तराने
अब गूंजेगे मोहब्बत के तराने
Surinder blackpen
#बह_रहा_पछुआ_प्रबल, #अब_मंद_पुरवाई!
#बह_रहा_पछुआ_प्रबल, #अब_मंद_पुरवाई!
संजीव शुक्ल 'सचिन'
International Day Against Drug Abuse
International Day Against Drug Abuse
Tushar Jagawat
मेहनत के दिन हमको , बड़े याद आते हैं !
मेहनत के दिन हमको , बड़े याद आते हैं !
Kuldeep mishra (KD)
*ऐसा हमेशा कृष्ण जैसा, मित्र होना चाहिए (मुक्तक)*
*ऐसा हमेशा कृष्ण जैसा, मित्र होना चाहिए (मुक्तक)*
Ravi Prakash
Miracles in life are done by those who had no other
Miracles in life are done by those who had no other "options
Nupur Pathak
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
Dheerja Sharma
लेकिन क्यों ?
लेकिन क्यों ?
Dinesh Kumar Gangwar
सब कुछ खत्म नहीं होता
सब कुछ खत्म नहीं होता
Dr. Rajeev Jain
आम्बेडकर ने पहली बार
आम्बेडकर ने पहली बार
Dr MusafiR BaithA
■ सर्वाधिक चोरी शब्द, भाव और चिंतन की होती है दुनिया में। हम
■ सर्वाधिक चोरी शब्द, भाव और चिंतन की होती है दुनिया में। हम
*Author प्रणय प्रभात*
जीवन को पैगाम समझना पड़ता है
जीवन को पैगाम समझना पड़ता है
कवि दीपक बवेजा
कब भोर हुई कब सांझ ढली
कब भोर हुई कब सांझ ढली
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नहीं    माँगूँ  बड़ा   ओहदा,
नहीं माँगूँ बड़ा ओहदा,
Satish Srijan
मुक्तक
मुक्तक
sushil sarna
*ख़ुद मझधार में होकर भी...*
*ख़ुद मझधार में होकर भी...*
Rituraj shivem verma
Misconceptions are both negative and positive. It is just ne
Misconceptions are both negative and positive. It is just ne
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"पाठशाला"
Dr. Kishan tandon kranti
राम आए हैं भाई रे
राम आए हैं भाई रे
Harinarayan Tanha
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और      को छोड़कर
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और को छोड़कर
Rakesh Singh
Loading...