Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jun 2023 · 1 min read

आज के लिए जिऊँ लक्ष्य ये नहीं मेरा।

आज के लिए जिऊँ लक्ष्य ये नहीं मेरा।
लक्ष्य है कि कल मुझे याद भी रखे कोई।।

संतोष बरमैया *जय

1 Like · 270 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सब कुछ हो जब पाने को,
सब कुछ हो जब पाने को,
manjula chauhan
मानव के बस में नहीं, पतझड़  या  मधुमास ।
मानव के बस में नहीं, पतझड़ या मधुमास ।
sushil sarna
सफलता
सफलता
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
गजलकार रघुनंदन किशोर
गजलकार रघुनंदन किशोर "शौक" साहब का स्मरण
Ravi Prakash
सोच की अय्याशीया
सोच की अय्याशीया
Sandeep Pande
यादों की किताब बंद करना कठिन है;
यादों की किताब बंद करना कठिन है;
Dr. Upasana Pandey
बारिश पर लिखे अशआर
बारिश पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
"अक्षर"
Dr. Kishan tandon kranti
The only difference between dreams and reality is perfection
The only difference between dreams and reality is perfection
सिद्धार्थ गोरखपुरी
पूछ रही हूं
पूछ रही हूं
Srishty Bansal
16)”अनेक रूप माँ स्वरूप”
16)”अनेक रूप माँ स्वरूप”
Sapna Arora
हनुमान जी वंदना ।। अंजनी सुत प्रभु, आप तो विशिष्ट हो ।।
हनुमान जी वंदना ।। अंजनी सुत प्रभु, आप तो विशिष्ट हो ।।
Kuldeep mishra (KD)
बहुत याद आती है
बहुत याद आती है
नन्दलाल सुथार "राही"
श्री गणेश भगवान की जन्म कथा
श्री गणेश भगवान की जन्म कथा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जाग गया है हिन्दुस्तान
जाग गया है हिन्दुस्तान
Bodhisatva kastooriya
रग रग में देशभक्ति
रग रग में देशभक्ति
भरत कुमार सोलंकी
बाल कविता: 2 चूहे मोटे मोटे (2 का पहाड़ा, शिक्षण गतिविधि)
बाल कविता: 2 चूहे मोटे मोटे (2 का पहाड़ा, शिक्षण गतिविधि)
Rajesh Kumar Arjun
नाम परिवर्तन
नाम परिवर्तन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मेरी आँखों में देखो
मेरी आँखों में देखो
हिमांशु Kulshrestha
और क्या ज़िंदगी का हासिल है
और क्या ज़िंदगी का हासिल है
Shweta Soni
आओ चले अब बुद्ध की ओर
आओ चले अब बुद्ध की ओर
Buddha Prakash
‘ विरोधरस ‘---7. || विरोधरस के अनुभाव || +रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---7. || विरोधरस के अनुभाव || +रमेशराज
कवि रमेशराज
#शेर-
#शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
Not longing for prince who will give you taj after your death
Not longing for prince who will give you taj after your death
Ankita Patel
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मुझसे देखी न गई तकलीफ़,
मुझसे देखी न गई तकलीफ़,
पूर्वार्थ
दिल की बातें
दिल की बातें
Ritu Asooja
हम सुधरेंगे तो जग सुधरेगा
हम सुधरेंगे तो जग सुधरेगा
Sanjay ' शून्य'
सर्द हवाएं
सर्द हवाएं
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
3318.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3318.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
Loading...