Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Jul 2016 · 1 min read

अब गुमाँ तुझको कैसे आया है

अब गुमाँ तुझको कैसे आया हैं
क्यूँ मुहब्बत से दिल सजाया हैं

नफ़रती बस्तियों में उसने’ कहीं
आशियाँ फिर से’ इक बसाया है

क्यों नक़ाबों का आसरा लेना
रुख़ पे परदा ये क्यूँ गिराया है

क़ैदे’ हसरत की’ जेल में आकर
क्यूँ हरिक दर पे सर झुकाया है

देखना सूखे’ इन दरख्तों को
अब फ़िज़ा ने इन्हें जलाया है

ख़ुश्क आँखों से उम्र भर रोए
नीर आँखों का जब सुखाया है

आशिक़ी कर तू’ ऐसी जज़्बाती
रब से दिल हमने अब लगाया है
जज़्बाती

358 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मन है एक बादल सा मित्र हैं हवाऐं
मन है एक बादल सा मित्र हैं हवाऐं
Bhargav Jha
2561.पूर्णिका
2561.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
कौन कहता है कि नदी सागर में
कौन कहता है कि नदी सागर में
Anil Mishra Prahari
*कभी  प्यार में  कोई तिजारत ना हो*
*कभी प्यार में कोई तिजारत ना हो*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
औरत
औरत
नूरफातिमा खातून नूरी
■ शुभ देवोत्थान
■ शुभ देवोत्थान
*Author प्रणय प्रभात*
सूरज की किरणों
सूरज की किरणों
Sidhartha Mishra
शायर की मोहब्बत
शायर की मोहब्बत
Madhuyanka Raj
हादसे पैदा कर
हादसे पैदा कर
Shekhar Chandra Mitra
अध खिला कली तरुणाई  की गीत सुनाती है।
अध खिला कली तरुणाई की गीत सुनाती है।
Nanki Patre
*
*"अक्षय तृतीया"*
Shashi kala vyas
दिया है नसीब
दिया है नसीब
Santosh Shrivastava
आपका दु:ख किसी की
आपका दु:ख किसी की
Aarti sirsat
ज़िंदगी का सवाल रहता है
ज़िंदगी का सवाल रहता है
Dr fauzia Naseem shad
Swami Vivekanand
Swami Vivekanand
Poonam Sharma
Safar : Classmates to Soulmates
Safar : Classmates to Soulmates
Prathmesh Yelne
*साला-साली मानिए ,सारे गुण की खान (हास्य कुंडलिया)*
*साला-साली मानिए ,सारे गुण की खान (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
अंधेरी रात में भी एक तारा टिमटिमाया है
अंधेरी रात में भी एक तारा टिमटिमाया है
VINOD CHAUHAN
मेरी तकलीफ़ पे तुझको भी रोना चाहिए।
मेरी तकलीफ़ पे तुझको भी रोना चाहिए।
पूर्वार्थ
ग़ज़ल सगीर
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
सबका भला कहां करती हैं ये बारिशें
सबका भला कहां करती हैं ये बारिशें
Abhinay Krishna Prajapati-.-(kavyash)
फेसबुक
फेसबुक
Neelam Sharma
उनको शौक़ बहुत है,अक्सर हीं ले आते हैं
उनको शौक़ बहुत है,अक्सर हीं ले आते हैं
Shweta Soni
यह  सिक्वेल बनाने का ,
यह सिक्वेल बनाने का ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
"परिवर्तनशीलता"
Dr. Kishan tandon kranti
वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई - पुण्यतिथि - श्रृद्धासुमनांजलि
वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई - पुण्यतिथि - श्रृद्धासुमनांजलि
Shyam Sundar Subramanian
बेवफा
बेवफा
नेताम आर सी
*ग़ज़ल*
*ग़ज़ल*
शेख रहमत अली "बस्तवी"
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
सत्य कुमार प्रेमी
Loading...