Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Sep 2022 · 1 min read

अपनी है, फिर भी पराई है बेटियां

अपनी है, फिर भी पराई है बेटियां

घर में चहचहाती है बेटियां, पर कभी शोर नहीं करती।
आंगन में खिलखिलाती है बेटियां, पर कभी रुठा नहीं करती।
हजारों ख्वाहिशें होती है, पर कभी इजहार नहीं करती।
जागीर होती है मां बाप की, पर कभी उनके नाम वसीयत नहीं होती।
रहमत, बरकत लाती है बेटियां, पर उनकी कोई कीमत नहीं होती।
संस्कारों, जिम्मेदारियों का बोझ ढोती हैं बेटियां, पर कभी उफ़ तक नहीं करती।
पापा की परी, मां का गुमान होती है बेटियां।
पर परिवार की स्थाई सदस्यता की हकदार नहीं होती बेटियां।।

#seematuhaina

4 Likes · 2 Comments · 197 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"साहित्यकार और पत्रकार दोनों समाज का आइना होते है हर परिस्थि
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
असुर सम्राट भक्त प्रहलाद – पूर्वजन्म की कथा – 03
असुर सम्राट भक्त प्रहलाद – पूर्वजन्म की कथा – 03
Kirti Aphale
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
* कुण्डलिया *
* कुण्डलिया *
surenderpal vaidya
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
अनिल "आदर्श"
दिल के रिश्ते
दिल के रिश्ते
Surinder blackpen
■ विडंबना-
■ विडंबना-
*प्रणय प्रभात*
प्रीतघोष है प्रीत का, धड़कन  में  नव  नाद ।
प्रीतघोष है प्रीत का, धड़कन में नव नाद ।
sushil sarna
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
"कभी मेरा ज़िक्र छीड़े"
Lohit Tamta
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
#लाश_पर_अभिलाष_की_बंसी_सुखद_कैसे_बजाएं?
संजीव शुक्ल 'सचिन'
मुझे तुम
मुझे तुम
Dr fauzia Naseem shad
जब किसी व्यक्ति और महिला के अंदर वासना का भूकम्प आता है तो उ
जब किसी व्यक्ति और महिला के अंदर वासना का भूकम्प आता है तो उ
Rj Anand Prajapati
मातृभूमि
मातृभूमि
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
हम अपनों से न करें उम्मीद ,
हम अपनों से न करें उम्मीद ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
जीवन में कितना ही धन -धन कर ले मनवा किंतु शौक़ पत्रिका में न
जीवन में कितना ही धन -धन कर ले मनवा किंतु शौक़ पत्रिका में न
Neelam Sharma
DR अरूण कुमार शास्त्री
DR अरूण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
***वारिस हुई***
***वारिस हुई***
Dinesh Kumar Gangwar
नाचणिया स नाच रया, नचावै नटवर नाथ ।
नाचणिया स नाच रया, नचावै नटवर नाथ ।
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
प्रार्थना
प्रार्थना
Shally Vij
लहजा
लहजा
Naushaba Suriya
"स्टिंग ऑपरेशन"
Dr. Kishan tandon kranti
मुक्तक...छंद पद्मावती
मुक्तक...छंद पद्मावती
डॉ.सीमा अग्रवाल
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
नेताम आर सी
दीवाली शुभकामनाएं
दीवाली शुभकामनाएं
kumar Deepak "Mani"
मेरे चेहरे से ना लगा मेरी उम्र का तकाज़ा,
मेरे चेहरे से ना लगा मेरी उम्र का तकाज़ा,
Ravi Betulwala
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मित्र
मित्र
लक्ष्मी सिंह
फकीर का बावरा मन
फकीर का बावरा मन
Dr. Upasana Pandey
देखी नहीं है कोई तुम सी, मैंने अभी तक
देखी नहीं है कोई तुम सी, मैंने अभी तक
gurudeenverma198
Loading...