Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Jul 2023 · 1 min read

अपनी अपनी सोच

खोजी हो तो खोजिये
निज इच्छा की खोज
घटना तो घटित हुआ
है अपनी अपनी सोच

खेल खेल था खेल समझ
निज इच्छा से खेली खेल
निज पति को पागल बना
आशिक को हुआ है जेल

घटना तो घटित हुआ है
खबर छपी है हर रोज
खोजी हो तो खोजिये
अपनी अपनी है सोच

बन सुर्पनखा ज्योति मौर्य
अपनी नाक कटा ली है
होकर बदनाम सारी दुनिया
सबको ज्ञान सिखा दी है

कमजोर समझ पति को निज
स्वयं खिंचने लगी थी खाल
खेल खेल सा खेल रही थी
कलंकित भये नारी सा चाल

आशिकों को सबक़ सिखा दी
कलंकित नारी का खेलते खेल
निज पति को पागल बनाकर
स्वयं आशिक को भेजी जेल

स्वयं अहंकारी नारी बनकर,
आशिक का करती है खोज
घटना तो अभी घटित हुआ है
अपनी अपनी है यह निज सोच

नारी जगत अब लें शिक्षा,
पुरूष प्रबल है मेरे यार
न कर छल छिद्रकभी पति से
गिरना पड़ेगा शिर भार

डां विजय कुमार कन्नौजे
अमोदी आरंग ज़िला रायपुर छ ग

Language: Hindi
1 Like · 183 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
A Departed Soul Can Never Come Again
A Departed Soul Can Never Come Again
Manisha Manjari
(16) आज़ादी पर
(16) आज़ादी पर
Kishore Nigam
"कला आत्मा की भाषा है।"
*प्रणय प्रभात*
चॅंद्रयान
चॅंद्रयान
Paras Nath Jha
लगन लगे जब नेह की,
लगन लगे जब नेह की,
Rashmi Sanjay
जिस नारी ने जन्म दिया
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD CHAUHAN
नेता पक रहा है
नेता पक रहा है
Sanjay ' शून्य'
कुछ यादें जिन्हें हम भूला नहीं सकते,
कुछ यादें जिन्हें हम भूला नहीं सकते,
लक्ष्मी सिंह
आज़ के पिता
आज़ के पिता
Sonam Puneet Dubey
प्यार के बारे में क्या?
प्यार के बारे में क्या?
Otteri Selvakumar
3389⚘ *पूर्णिका* ⚘
3389⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
प्रार्थना
प्रार्थना
सत्यम प्रकाश 'ऋतुपर्ण'
*** लहरों के संग....! ***
*** लहरों के संग....! ***
VEDANTA PATEL
आप अपनी नज़र से
आप अपनी नज़र से
Dr fauzia Naseem shad
*साहित्यिक बाज़ार*
*साहित्यिक बाज़ार*
Lokesh Singh
जब जलियांवाला काण्ड हुआ
जब जलियांवाला काण्ड हुआ
Satish Srijan
पुष्प और तितलियाँ
पुष्प और तितलियाँ
Ritu Asooja
कवियों की कैसे हो होली
कवियों की कैसे हो होली
महेश चन्द्र त्रिपाठी
अभी नहीं पूछो मुझसे यह बात तुम
अभी नहीं पूछो मुझसे यह बात तुम
gurudeenverma198
*बहुत अच्छाइ‌याँ हैं, मन्दिरों में-तीर्थ जाने में (हिंदी गजल
*बहुत अच्छाइ‌याँ हैं, मन्दिरों में-तीर्थ जाने में (हिंदी गजल
Ravi Prakash
बेटी
बेटी
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
अक्सर कोई तारा जमी पर टूटकर
अक्सर कोई तारा जमी पर टूटकर
'अशांत' शेखर
एक होस्टल कैंटीन में रोज़-रोज़
एक होस्टल कैंटीन में रोज़-रोज़
Rituraj shivem verma
क्रिकेट
क्रिकेट
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
हँसकर गुजारी
हँसकर गुजारी
Bodhisatva kastooriya
यह मौसम और कुदरत के नज़ारे हैं।
यह मौसम और कुदरत के नज़ारे हैं।
Neeraj Agarwal
एक ही भूल
एक ही भूल
Mukesh Kumar Sonkar
"प्रार्थना"
Dr. Kishan tandon kranti
कुछ राज़ बताए थे अपनों को
कुछ राज़ बताए थे अपनों को
Rekha khichi
మంత్రాలయము మహా పుణ్య క్షేత్రము
మంత్రాలయము మహా పుణ్య క్షేత్రము
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
Loading...