Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Aug 2023 · 1 min read

अगर कोई अच्छा खासा अवगुण है तो लोगों की उम्मीद होगी आप उस अव

अगर कोई अच्छा खासा अवगुण है तो लोगों की उम्मीद होगी आप उस अवगुण को छोड़ दे
यदि ऐसा कुछ न हुआ तो फिर लोगों की बहुत सी अनावश्यक उम्मीद आपसे हो जाएंगी

182 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
इस मुद्दे पर ना खुलवाओ मुंह मेरा
इस मुद्दे पर ना खुलवाओ मुंह मेरा
कवि दीपक बवेजा
3167.*पूर्णिका*
3167.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कहानी
कहानी
कवि रमेशराज
"मैं-मैं का शोर"
Dr. Kishan tandon kranti
#dr Arun Kumar shastri
#dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तेरी चाहत का कैदी
तेरी चाहत का कैदी
N.ksahu0007@writer
छुपा सच
छुपा सच
Mahender Singh
झूठा फिरते बहुत हैं,बिन ढूंढे मिल जाय।
झूठा फिरते बहुत हैं,बिन ढूंढे मिल जाय।
Vijay kumar Pandey
आंखो ने क्या नहीं देखा ...🙏
आंखो ने क्या नहीं देखा ...🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
#कहानी-
#कहानी-
*Author प्रणय प्रभात*
विरह
विरह
नवीन जोशी 'नवल'
आप खुद का इतिहास पढ़कर भी एक अनपढ़ को
आप खुद का इतिहास पढ़कर भी एक अनपढ़ को
शेखर सिंह
कुछ रिश्तो में हम केवल ..जरूरत होते हैं जरूरी नहीं..! अपनी अ
कुछ रिश्तो में हम केवल ..जरूरत होते हैं जरूरी नहीं..! अपनी अ
पूर्वार्थ
~~बस यूँ ही~~
~~बस यूँ ही~~
Dr Manju Saini
छल ......
छल ......
sushil sarna
संतुलन
संतुलन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
इन रास्तों को मंजूर था ये सफर मेरा
इन रास्तों को मंजूर था ये सफर मेरा
'अशांत' शेखर
डा. तुलसीराम और उनकी आत्मकथाओं को जैसा मैंने समझा / © डा. मुसाफ़िर बैठा
डा. तुलसीराम और उनकी आत्मकथाओं को जैसा मैंने समझा / © डा. मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
आ जाओ
आ जाओ
हिमांशु Kulshrestha
चित्रगुप्त सत देव को,करिए सभी प्रणाम।
चित्रगुप्त सत देव को,करिए सभी प्रणाम।
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
छप्पन भोग
छप्पन भोग
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
जनता के हिस्से सिर्फ हलाहल
जनता के हिस्से सिर्फ हलाहल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
।।आध्यात्मिक प्रेम।।
।।आध्यात्मिक प्रेम।।
Aryan Raj
जीव कहे अविनाशी
जीव कहे अविनाशी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*जनहित में विद्यालय जिनकी, रचना उन्हें प्रणाम है (गीत)*
*जनहित में विद्यालय जिनकी, रचना उन्हें प्रणाम है (गीत)*
Ravi Prakash
खूबसूरत लम्हें जियो तो सही
खूबसूरत लम्हें जियो तो सही
Harminder Kaur
"राज़" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
!! हे उमां सुनो !!
!! हे उमां सुनो !!
Chunnu Lal Gupta
तुम सात जन्मों की बात करते हो,
तुम सात जन्मों की बात करते हो,
लक्ष्मी सिंह
भूख सोने नहीं देती
भूख सोने नहीं देती
Shweta Soni
Loading...